न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

वीडियो: ऑनलाइन परीक्षा केंद्र ने विद्यार्थियों को बनाया कमाई का जरिया

अस्पायर सोल्यूशन में अभ्यार्थियों से सामान रखने के बदले लिये जाते हैं पैसे

242

Ranchi: बुटी मोड़ स्थित अस्पायर इंफोटेक सोल्यूशन में रेलवे ग्रुप डी परीक्षा देने आये अभ्यार्थियों से दस-दस रुपये वसूली जा रही है. केंद्र में 10-10 रुपये अभ्यार्थियों से उनके सामान रखने के बदले लिया जा रहा है. अस्पायर इंफोटेक में ऑनलाइन परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है. जिसमें प्रतिदिन लगभग सैकड़ों की संख्या में विद्यार्थी शामिल होते हैं. वर्तमान में रेलवे ग्रुप डी की ऑनलाइन परीक्षा केंद्र बुटी मोड़ में आयोजित होती है, जिसमें आने वाले अभ्यार्थियों से दस दस रुपये वसूले जा रहे है. बता दें कि इन केंद्रों को परीक्षा आयोजकों की ओर से लाखों रुपये परीक्षा आयोजन समेत अन्य खर्च के लिए दिये जाते हैं. ऐसे में विद्यार्थियों से उनके बैग, फोन समेत अन्य सामान रखने के लिए पैसे की वसूली करना नाजायज है.

इसे भी पढ़ें: धनबाद जेल : जब बॉस ने जेल गेट पर बुलाया, तो पहुंचो, नहीं तो जान से हाथ धो लो…

तीन पालियों में हो रही परीक्षा

रेलवे की ओर से ऑनलाइन परीक्षा केंद्रों में तीन पालियों में परीक्षा ली जा रही है. जिसमें सुबह सात बजे से ही ऑनलाइन परीक्षा केंद्र के बाहर अभ्यार्थियों की भीड़ लगी रहती है. यहां प्रत्येक पाली में करीब तीन सौ अभ्यार्थी परीक्षा दे रहे हैं. विद्यार्थियों की संख्या से अंदाजा लगाया जा सकता है कि एक पाली से कम से कम केंद्र को तीन हजार रुपये की कमाई हो रही है. वहीं दिन में दो पाली और भी होते है. जिससे प्रतिदिन कम से कम दस हजार रुपये इन विद्यार्थियों से वसूली जा रही है.

इसे भी पढ़ें :CM का विभाग : 441.22 करोड़ का घोटाला, अफसरों ने गटका अचार और पत्तों का भी पैसा

काउंटर में लगी भीड़

न्‍यूजविंग के पास इस परीक्षा के केंद्र के उस काउंटर का वीडियो है, जहां विद्यार्थियों ने सामान रखने के एवज में पैसे लेते हुए देखा जा सकता है. वीडियो में केंद्र के काउंटर में अभ्यार्थियों की भीड़ देखी सकती है.

वसूली के बावजूद सुविधाएं नहीं

केंद्र में परीक्षार्थियों से वसूली तो जारी है, वहीं परीक्षा आयोजकों की ओर से भी इन्हें लाखों रुपये दिये जाते हैं. फिर भी यहां विद्यार्थियों के बैठने के लिए उचित व्यवस्था नहीं है. जबकि परीक्षा देने दूर-दूर से यहां अभ्यार्थी आते है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: