न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

वीडियो : धनबाद भाजपा कार्यालय में लगा मेयर की नो इंट्री का पोस्टर

892

Dhanbad :  सरायढेला थाने में अपने सम्मान की लड़ाई हारनेवाले भाजपायी अब अपने कार्यालय में ही सम्मान के लिए ऐसे लड़ रहे हैं जिससे पार्टी का मजाक बन रहा है. रविवार को मनयीटांड़ मंडल भाजपाध्यक्ष दिलीप सिंह के बेटे रवि और भतीजे सूरज की दुबारा गिरफ्तारी के बाद घटनाक्रम तेजी से बदला. दिलीप सिंह के घर पर भाजपा के मंडल अध्यक्षों की बैठक के बाद 48 घंटे में जमादार ममता कुमारी पर कार्रवाई नहीं होने पर इस्तीफा देने की चेतावनी दी गयी.

इस कड़ी में रविवार की ही रात को कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं ने पार्टी के जिला कार्यालय में ताला लगा दिया. कार्यकर्ताओं ने कहा, जब तक उनके साथ न्याय नहीं होगा, कार्यालय में कोई काम नहीं होगा. इसके बाद सोमवार को भाजपा कार्यालय में जिलाध्यक्ष के प्रतिनिधियों के साथ नाराज कार्यकर्ताओं की बैठक हुई. इसके बाद कुछ लोगों ने भाजपा के जिला कार्यालय में एक पोस्टर चिपका दिया. जिस पर लिखा था : महापौर चंद्रशेखर अग्रवाल की जिला कार्यालय में नो इंट्री. बताते हैं कि बाद में मेयर के कुछ लोगों ने आकर वह पोस्टर उखाड़ दिया. इस पोस्टरबाजी से भाजपा का कलह सतह पर आ गयी है.

इसे भी पढ़ें – राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने रघुवर सरकार को घेरा, ट्वीट कर कहा, सस्ती बिजली छोड़ ले रहे महंगी बिजली

भाजपा नेता पुत्र की गिरफ्तारी के विरोध में उतरा छात्र संघ

युवा छात्र संघ ने सोमवार को प्रेस वार्ता कर बताया कि सरायढेला थाना के महिला पुलिस ममता कुमारी ने रवि कुमार और सूरज कुमार को गाड़ी चेकिंग के नाम पर बेवजह पकड़कर भविष्य के साथ खिलवाड़ किया. इसका जिला युवा छात्र संघ विरोध करता है. प्रेस वार्ता में केंद्रीय अध्यक्ष विवेक गुप्ता ने कहा कि सरायढेला थाना की एएसआइ ममता कुमारी ने छात्र पर जो आरोप लगाया है वह निराधार है.

दोनों युवक पढ़ाई करने वाले हैं. इन दोनों ने आज तक कभी किसी से लड़ाई ही नहीं की है तो पुलिस से ऊंची आवाज में कैसे बोल सकता है. दोनों युवकों पर पुलिस ने जो आरोप लगाया कि गाड़ी छोड़ दें नहीं तो गोली मार देंगे, वह बिल्कुल निराधार है, पुलिस प्रशासन ने कोई जांच नहीं की है. बल्कि  दबाव में उसे गिरफ्तार किया गया है. छात्र संघ मांग करता है कि  24 घंटे के अंदर दोनों छात्रों को रिहा किया जाय नहीं तो छात्र सड़क पर उतर कर आंदोलन करेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: