न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पीड़िता छात्रा कोर्ट पहुंची, बयान दर्ज होने के बाद  पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद हो सकते हैं गिरफ्तार

छात्रा के बयान के बाद अदालत एसआईटी को इस मामले में दुष्कर्म की धारा जोड़ने का निर्देश दे सकती है. दुष्कर्म की धारा जोड़ने के तुरंत बाद चिन्मयानंद गिरफ्तार हो सकते हैं.

39

Shahjahanpur : पूर्व केंद्रीय मंत्री व भाजपा नेता चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली 23 वर्षीय छात्रा को कड़ी सुरक्षा के बीच सोमवार को अदालत ले जाया गया. कोर्ट में छात्रा के बयान दर्ज किया जायेगा.  जान लें कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर एसआईटी जांच कर रही है.

एसआईटी सूत्रों के अनुसार छात्रा के बयान के बाद अदालत एसआईटी को इस मामले में दुष्कर्म की धारा जोड़ने का निर्देश दे सकती है. दुष्कर्म की धारा जोड़ने के तुरंत बाद चिन्मयानंद गिरफ्तार हो सकते हैं.

Trade Friends

जान लें कि छात्रा ने चिन्मयानंद पर एक साल तक यौन शोषण करने का आरोप लगाया है. अब तक मामले से जुड़े बाकी तमाम गवाहों, शिकायतकर्ता का बयान एसआईटी दर्ज कर चुकी है. सबसे महत्वपूर्ण पीड़िता का बयान बचा था, जिसमें उसने चिन्मयानंद पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था.

इसे भी पढ़ें-  फारूक अब्दुल्ला पीएसए के तहत हिरासत में, SC में 8 याचिकाओं पर सुनवाई, #CJI ने कहा, जरूरत पड़ी तो वे खुद श्रीनगर जायेंगे

WH MART 1

सीआरपीसी की धारा 164 के तहत महत्वपूर्ण बयान अदालत में ही दर्ज होगा

खबरों के अनुसार पीड़िता का सीआरपीसी की धारा 164 के तहत यह महत्वपूर्ण बयान अदालत में ही दर्ज हो सकता है. एसआईटी टीम के पीड़िता को लेकर अदालत पहुंचने पर इन्हीं चर्चाओं को दम मिला है कि अदालत में एसआईटी कुछ देर बाद हर हाल में यह बयान दर्ज कराने की कोशिश करेगी.

दुष्कर्म की धारा जोड़ने के तुरंत बाद ही एसआईटी के लिए आरोपी चिन्मयानंद को गिरफ्तार करना विवशता भी होगा और जिम्मेदारी भी. अभी तक पीड़िता के बयान दर्ज न हो पाने के कारण ही लाख शोर-शराबे के बाद भी एसआईटी ने स्वामी को गिरफ्तार नहीं किया था.    

इसे भी पढ़ें- कांग्रेस का आरोप, #Article 370 जैसे संवेदनशील विषयों को खिसका रही  है न्यायपालिका

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like