Ranchi

अब वीनस वीवा पद्धति से दिख सकेंगे और भी खूबसूरत

Ranchi: चेहरे में किसी भी प्रकार के ब्‍यूटी ट्रीटमेंट के लिए नयी व अत्याधुनिक तकनीक से लैस वीनस वीवा फ्रॉम वीनस कॉन्सेप्ट का शुभारंभ किया गया. इस ट्रीटमेंट की शुरुआत बरियातू रोड स्थित ईशान स्किन केयर हॉस्पिटल से की गयी. चर्मरोग विशेषज्ञ डॉ सरोज राय ने नयी तकनीक का उद्घाटन किया. मौके पर उन्होंने कहा कि इस माध्यम से लोगों को खूबसूरत बनाने का काम किया जायेगा. वीनस ट्रीटमेंट के माध्यम से दर्दरहित इलाज कर खूबसूरत लुक दिया जा सकेगा. उन्होंने बताया कि यह तकनीक बगैर चीर-फाड़ या इंजेक्शन के तत्काल और आश्चर्यजनक परिणाम देता है. डॉ राय ने कहा कि आज की भागदौड़ भरी जिंदगी मे जहां लोगों के पास लंबी और उबाउ चिकित्सा के लिए समय नहीं है, वहीं वीनस ट्रीटमेंट के द्वारा बिना दर्द और बिना ज्यादा समय गंवाये ब्यूटी से जुड़े अधिकतर दोषों को ठीक किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें: नवरात्रि के नौ दिनों तक नहीं करें ये नौ गलतियां, नहीं तो होगा भारी नुकसान

स्किन टाइटनिंग, स्किन ब्राइटनिंग समेत चेहरे से जुड़े अन्य रोगों का होगा इलाज

Catalyst IAS
ram janam hospital

डॉ सरोज राय ने बताया कि अत्याधुनिक वीनस वीवा के नैनो फ्रैक्शनल और रेडियो फ्रीक्वेंसी द्वारा चेहरे और गले की स्किन टाइटनिंग, स्किन ब्राइटनिंग ऑइली स्किन करेक्शन, एक्ने, एक्ने स्कार, दुर्घटना से होने वाले निशान, ड्राई स्किन की समस्या, ओपन पोर्स, ब्लैक हेड एवं वाइट हेड और स्किन की अन्य समस्याओं का भी प्रभावशाली इलाज किया जा सकता है. उन्होंने बताया कि इस इलाज के बाद लोग दाग रहित, सुंदर व चिकनी त्वचा हासिल कर सकते हैं और अपना खोया आत्मविश्वास भी हासिल कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि वीनस कान्सेप्ट 50 से अधिक देशों में प्रतिवर्ष 30 लाख से अधिक लोगों को संतोषप्रद इलाज मुहैया कराता है. इसके सभी उत्पाद यूएसए एफडीए, हेल्थ कनाडा और सीई द्वारा प्रमाणित है.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

इसे भी पढ़ें: जज की भूमिका में धनबाद आ रही हैं बॉलीवुड अभिनेत्री अमृता राव

झारखंड, बिहार और ओडिशा में पहली मशीन

वीनस कंपनी के डॉ धीरज जायसवाल ने कहा कि अब तक सिर्फ मेट्रो शहरों में ही इस पद्धति से इलाज किया जाता था. अब भी कई राज्यों में यह पद्धति नहीं पहुंचा है. बिहार, झारखंड और ओडिशा में यह पहली संस्थान है, जहां लोगों को यह सुविधा दी जायेगी. उन्होंने बताया कि यह उपचार ज्यादा महंगा नहीं है. सिर्फ एक हजार से लेकर चार हजार रुपये के अंदर ही इलाज हो जायेगा.

Related Articles

Back to top button