न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

1.60 करोड़ रुपये की बकाया राशि की मांग को लेकर वेंडरों ने एमएसडब्ल्यू कार्यालय में की तालाबंदी

42

Ranchi : आरएमएसडब्ल्यू कंपनी को हटाने के बाद शहर के कई वेंडर अब अपनी बकाया राशि (कुल 1.60 करोड़ रुपये) की वसूली को लेकर कंपनी के ऑफिस का घेराव करने लगे हैं. तीन दिनों पहले निगम बोर्ड की बैठक में कंपनी को जैसे ही टर्मिनेट करने का निर्देश मेयर आशा लकड़ा ने दिया, उसी समय से कंपनी के आदेश पर शहर में काम करनेवाले आधा दर्जन से अधिक वेंडरों को गहरा झटका लगा है. ऐसा इसलिए, क्योंकि कंपनी के आदेश पर शहर के आधा दर्जन से अधिक वेंडरों ने लाखों रुपये का काम किया था. अब जब कंपनी को हटाने का आदेश दे दिया गया है, तो अपनी बकाया राशि की मांग को लेकर मंगलवार को शहर के आधा दर्जन से अधिक वेंडर कंपनी के अशोक नगर कार्यालय में पहुंचे. सभी वेंडरों ने नारेबाजी करते हुए कंपनी के कार्यालय में तालाबंदी कर दी. वेंडरों के इस आक्रामक रुख को देखते हुए कंपनी के साइट हेड सलिल कुमार ने सभी वेंडरों से बात की और उन्हें जल्द ही बकाया राशि दिये जाने का आश्वासन दिया. इसके बावजूद सभी वेंडर अपनी बकाया राशि का भुगतान जल्द से जल्द करने की मांग पर अड़े रहे. हालांकि, कंपनी के वरीय अधिकारियों ने इन वेडरों को यह कह दिया कि बकाया भुगतान में कम से कम डेढ़ माह का समय लगेगा.

इसे भी पढ़ें- क्या मेयर आशा लकड़ा ‘निगम’ से सीधा ‘लोकसभा’ जाने की चाहत रखती हैं ! 

बकाया राशि नहीं मिलने पर आमरण अनशन की चेतावनी

इस दौरान अपनी बकाया राशि की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे एक वेंडर केदार पासवान ने कहा कि जब से निगम ने कंपनी को हटाने का आदेश दिया है, तब से कंपनी ने भी सफाई कार्य की गतिविधि को रोक दिया है. ऐसे में कंपनी कभी भी शहर छोड़कर भाग सकती है. उन्होंने बताया कि कंपनी के आदेश पर काम करनेवाले कई वेंडरों ने सही तरीके से काम किया, अब उनकी बकाया राशि नहीं दिये जाने से उनकी आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गयी है. अगर उनकी बकाया राशि का भुगतान नहीं किया गया, तो वे आमरण अनशन करने को बाध्य होंगे.

SMILE

कंपनी पर इन वेंडरों का है बकाया

वेंडरबकाया राशि
आशा बिल्डकॉन72 लाख रुपये
साईं बाबा एंटरप्राइजेज32.50 लाख रुपये
मेसर्स विश्वनाथ चौधरी38 लाख रुपये
जय अंबे इलेक्ट्रिक वर्क9 लाख रुपये
मदन कुमार9 लाख रुपये

इसे भी पढ़ें- सी-विजिल ऐप से आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत मिलने के 10 मिनट के अंदर स्पॉट पर पहुंचेगी टीम, मिली…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: