Lead NewsNationalNEWS

पेट्रोल और डीजल के बढ़े दाम से सब्जियों के दाम 20 से 40 फीसद बढ़े, आगे और कितनी होगी महंगाई, जानिए !

Uday Chandra Singh

New Delhi: देश में बेशक कोरोना की मार कम हो रही हो, लेकिन अब महंगाई जनता की कमर तोड़ रही है. लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल के दाम का सीधा असर अब प्रतिदिन इस्तेमाल होने वाली चीजों पर पड़ने लगा है. देश में अनेक स्थानों पर प्याज, मटर और खीरा जैसी सब्जियों के दाम में 15 से 20 रुपए प्रति किलो की बढोतरी दर्ज की गई है. मंडी के कारोबारियों का मानना है कि आने वाले दिनों में सब्जियों के दाम और बढ़ेंगे. दूसरी तरफ कोरोना महामारी की वजह से लॉकडाउन और मांग में कमी आने के कारण ग्रोथ कमजोर बनी हुई है.

इसे भी पढ़ेंःWTC : कुछ घंटे बाद इतिहास रचने मैदान पर उतरेगी विराट सेना, पढ़ें-कैसी हो सकती रणनीति

advt

देखा जाय तो पेट्रोलियम गुड्स, कमॉडिटी और लो बेस इफेक्ट के कारण मई में थोक महंगाई दर 12.94 फीसदी और खुदरा महंगाई दर 6.30 फीसदी तक चली गई, जो पिछले 6 महीने में सबसे अधिक है. यह रिजर्व बैंक (आरबीआई) के 2-6 फीसदी के लक्ष्य से ज्यादा है. यह बुरी खबर है क्योंकि इससे आरबीआई पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी करने का दबाव बढ़ेगा. यह बात और है कि वह ऐसा नहीं करेगा क्योंकि असल चिंता जीडीपी ग्रोथ बढ़ाने की है. कोरोना महामारी की वजह से लॉकडाउन और मांग में कमी आने के कारण ग्रोथ कमजोर बनी हुई है. दूसरी तरफ, चीन, अमेरिका और अन्य अमीर देशों में आर्थिक गतिविधियां तेज हो रही हैं, जिससे कच्चे तेल और दूसरी कमॉडिटी के दाम और बढ़ेंगे। यानी आगे भी आरबीआई के लिए ग्रोथ और महंगाई दर के बीच संतुलन बनाना आसान नहीं होगा.

इसे भी पढ़ेंःशुवेंदु की जीत के खिलाफ हाई कोर्ट पहुंची ममता, सुनवाई आज संभावित

adv

मंडियों में 25 रुपए में बिकने वाला प्याज अब 40 रुपए प्रति किलो बिक रहा है. यही हाल मटर और टमाटर का भी है. मटर की कीमत पहले 60 से 70 रुपए प्रति किलो थी, लेकिन अब 80 रुपए से 90 रुपए प्रति किलो हो गई है. हालांकि आलू अभी भी 20 रुपए किलो के हिसाब से बेची जा रही है.

 

दिल्ली की आजादपुर मंडियों के कारोबारियों का कहना है कि पिछले दिनों डीजल के दाम बढ़ने से माल बाढा बढ़ गया है, जिसकी वजह से अन्य राज्यों से आने वाली सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं. सब्जियों के महंगा होने के पीछे एक कारण मानसून भी है. पिछले दिनों महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में बारिश होने की वजह से कई सब्जियों की फसल खराब हुई है.

 

महंगाई के इस बढ़ते ग्राफ की जबरदस्त मार आम आदमी पर पड़ रही है. खाने-पीने की चीजों की बढ़ती कीमतों ने घर का बजट बिगाड़ दिया है. वहीं इस कोरोना काल में छोटे कारोबार भी प्रभावित हुए हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: