Education & Career

Vacancy: पोषण अभियान के लिये समाज कल्याण विभाग को चाहिये कंसल्टेंट, जानें डिटेल्स

Ranchi:  राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों में पोषण अभियान चलाया जा रहा है. इसका उद्देश्य झारखंड को कुपोषण से मुक्ति दिलाना है. इसके लिये केंद्र सरकार की ओर से राज्य को मदद दी जा रही है. योजना के बेहतर संचालन के लिये समाज कल्याण विभाग को कुछ कंसल्टेंट की जरूरत है. योग्य कैंडिडेट इसके लिये ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. विस्तृत जानकारी के लिये www.socialwelfarejhar.gov.in को देखा जा सकता है. इसके लिये recruitment.jharkhand.gov.in की भी मदद ली जा सकती है.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ेंः  चिराग के बोल, नीतीश राजद  के संपर्क में, चुनाव बाद महागठबंधन के साथ चले जायेंगे…  

इन पदों पर होगी नियुक्ति

स्टेट लेवल पर होने वाली इस नियुक्ति में सभी पद अनारक्षित कैटेगरी के हैं. कुल 4 पदों के लिये नियुक्त होने वाले सभी कैंडिडेट को 60,000 रुपये हर महीने दिये जायेंगे. यह नियुक्ति 31 मार्च 2021 तक के लिये की जानी है. जरूरत के अनुसार विभाग इसे आगे जारी रखने पर फैसला ले सकता है. जिन पदों पर नियुक्ति की जानी है, वे हैं-

पद                                       पदों की संख्या

Samford

कंसल्टेंट(हेल्थ एंड न्यूट्रिशन)             01

कंसल्टेंट (फाइनेंशियल मैनेजमेंट)          01

कंसल्टेंट (कैपेसिटी बिल्डिंग एंड बीसीसी)    01

कंसल्टेंट (प्रोक्योरमेंट)                          01

इसे भी पढ़ेंः मुंगेर फायरिंग पर सियासी बवाल, तेजस्वी ने नीतीश को घेरा, जनरल डायर बनने का अधिकार पुलिस को किसने दिया

ये योग्यताएं होंगी जरूरी

कंसल्टेंट के अलग-अलग पदों के लिये विभागीय शर्तों के अनुरूप योग्यताएं जरूरी होंगी. कंसल्टेंट (हेल्थ एंड न्यूट्रिशन) के लिये न्यूट्रिशन/पब्लिक हेल्थ/ सोशल साइंसेज/ रूरल डेवलपमेंट/ कम्युनिटी मेडिसिन में 55 प्रतिशत अंकों के साथ पीजी डिग्री होनी चाहिये. इस फिल्ड में 5 साल तक का वर्क एक्सपीरियेंस भी होना चाहिये. कंसल्टेंट (फाइनेंशियल मैनेजमेंट) के लिये सीए/सीएस/सीएमए (सीडब्लूए) या एमबीए (फाइनेंस) की डिग्री 55 प्रतिशत अंकों के साथ जरूरी होगा. साथ ही 5 साल का वर्क एक्सपीरियेंस भी. कंसल्टेंट (कैपेसिटी बिल्डिंग एंड बीसीसी) के लिये सोशल साइंसेज/हेल्थ कम्युनिकेशन/रुरल डेवलपमेंट/मास कम्युनिकेशन में 55 प्रतिशत अंक होने चाहिये. कंसल्टेंट (प्रोक्योरमेंट) के लिये सप्लाई चेन मैनेजमेंट/ऑपरेशंस में पीजी डिग्री की जरूरत होगी. 5 साल का कार्यानुभव भी चाहिये.

50 साल तक अधिकतम आयु

कंसल्टेंट पदों के लिये न्यूनतम आयु 25 साल की रखी गयी है. सामान्य कैटेगरी के कैंडिडेट के लिये अधिकतम आयु 35 साल है, जबकि दिव्यांग के लिये 45 साल. महिलाओं के लिये अधिकतम आय़ु 37 साल रखी गयी है जबकि दिव्यांग कैटेगरी वाली महिलाओं के लिये 47 साल. इसी तरह एसटी कैटेगरी के कैंडिडेट के लिये अधिकतम आयु 40 साल है और दिव्यांग कैटेगरी वालों के लिये 50 साल.

इसे भी पढ़ेंः फाकाकशी में गुजरी दुर्गा पूजा अब दीपावली और छठ भी ऐसे ही न बिता दें बिजली कॉन्ट्रैक्ट कर्मी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: