न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

उत्तराखंड सीएम फिर हुए महिला के गुस्से का शिकार, वीडियो वायरल

महीला ने सीएम त्रीवेंद्र सिंह रावत से कहा यहां से भाग जाओ, नहीं तो पत्थर से मारेंगे

317

Uttarakhand : सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत फिर से एक महिला के गुस्से का शिकार होने की वजह से चर्चे में है. इस संबंध में एक वीडियो भी वायरल हुआ है. वीडियो में यह दिखाया गया है कि किस तरह से महिला सीएम पर अपना गुस्सा उतार रहे हैं. महिला वीडियो में कहती हुई नजर आ रही है कि यहां से भाग जाओ नहीं तो पत्थर से मारेंगे.

इसे भी पढ़ें- सीडब्ल्यूसी का बड़ा खुलासा : अविवाहित गर्भवती लड़कियों को निर्मल हृदय में मिलता है आश्रय, बच्चा होने पर बेच दिया जाता है उसे

क्या कहा महिला ने

गौरतलब है कि धुमाकोट बस दुर्घटना के बाद सीएम रावत अफसरों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे थे. वहां रावत मृतक के परिजनों से बात कर रहे थे. इसी दौरान एक महिला गुस्से में आकर सीएम के पास पहुंची और उन्हें भला-बुरा करना शुरू कर दिया. महिला ने कहा कि यहां से भाग जाओ, नहीं तो पत्थर से मार देंगे. महिला ने कहा कि हादसे के बाद सभी नेता मंत्री नजर आते हैं लेकिन पहले कोई कुछ नहीं करता है.

महिला ने गुस्से में रावत से यह तक कह दिया कि सीएम तो बन जाते हो मगर जनता की फिक्र नहीं करते हो. उल्लेखनीय है कि बस हादसे की एक बड़ी वजह सड़क का खराब होना बताया जा रहा हैं. खराब सड़क की जह से ओवरलोडेड बस बेकाबू हो गयी और खाई में जा गिरी. इस हादसे में 48 लोगों की मौत हो गई थी.

इसे भी पढ़ें- आखिरकार चालू हो ही गया कांके स्थित स्लॉटर हाउस, अब लोगों को मिलने लगा हाइजीनिक मीट

पहले भी सीएम हो चुके हैं महिला के गुस्से का शिकार

इस घटना से पहले भी सीएम रावत महिला के गुस्से का शिकार हो चुके हैं. एक प्राइमरी स्कूल की शिक्षिका ने रावत पर अपने ट्रांसफर को लेकर गुस्सा उतारा था. महिला लंबे समय से अपने ट्रांसफर को लेकर मांग कर रही थी, लेकिन उसका ट्रांसफर नहीं किया गया था. महिला ने जनता दरबार में कहा कि वह उत्तरा पंत में नौकरी कर रही है. उसके पति की मृत्यु हो चुकी है और उसके बच्चे देहरादून में रहते हैं जिसकी वजह से उसे परेशानी हो रही है.

उसका ट्रांसफर कर दिया जाए ताकि वह अपने बच्चों के साथ रह सके. लेकिन उसकी सुनने वाला कोई नहीं. इसे लेकर महिला ने सारा गुस्सा रावत व जनता दरबार में मौजूद अधिकारियों पर उतार दिया. महिला पर पुलिस कर्मियों ने काबू पाने की कोशिश की और रावत ने भी बहुत समझाया कि वो शांत हो जाए लेकिन महिला ने शांत होने का नाम तक नहीं लिया.

महिला ने सीएम रावत को गुस्से में चोर तक कह दिया. महिला ने कहा कि सीएम रावत नेता हैं, कोई भगवान नहीं और प्रदेशवासियों को लूटकर खा रहे हैं. ये चोर मुख्यमंत्री हैं. जिसके बाद सीएम ने महिला को सस्पेंड करने का आदेश दे दिया था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: