न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

फैशन का उपयोग महिलाओं को आर्थिक रूप से दृढ़ करने के लिए हो: सीपी सिंह

31

Ranchi: कुछ सालों पूर्व तक महिलाओं को फैशन की अधिक जानकारी नहीं थी. लेकिन, इस क्षेत्र में समाज की कुछ महिलाओं के आगे आने से अब महिलाओं को फैशन की जानकारी हो रही है. महिलायें समझ रही हैं कि कैसे खुद को आगे लाना है. उक्त बातें नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने दिवाली सह प्री वेडिंग मेला के उद्घाटन के दौरान कहा. मेला का आयोजन फैशन प्वाइंट की ओर से होटल कैपिटल हिल में किया गया. मंत्री ने कहा कि महिलाओं को यह समझना होगा कि फैशन सिर्फ खुद को अच्छा दिखाने का एक साधन नहीं है, बल्कि ये इसका इस्तेमाल समाज को संवारने में भी किया जा सकता है. ऐसे आयोजनों में निम्न तबके की महिलाओं की भागीदारी बढ़ानी होगी. तभी ऐसे आयोजन सफल होंगे. उन्होंने कहा कि महिलाएं ऐसे आयोजनों के माध्यम से आर्थिक रूप से दृढ़ हो सकती हैं.

इसे भी पढ़ें- इस औरत ने जो किया या कर सकती है, वह कोई मर्द भी नहीं कर सका : प्रो. रीता वर्मा

महिलाओं ने की खरीदारी

मेला में कुल 50 स्टॉल लगाये गये हैं. जिसमें अधिकांश स्टॉल डिजाइनरों के लगाये गये है. मेला के पहले दिन विशेष भीड़ जिक्स डिजाइनर ज्वेलरी के स्टॉल में देखा गया. जहां लेटेस्ट डिजाइन के ज्वैलरी मिल रहे हैं. विवाह आयोजनों के लिए ये ज्वेलरी देखते ही लोगों को पसंद आयेगी. जिसमें पोलकी, गोटा, मोती, स्टोन आदि की कारीगरी की गयी है. इस स्टॉल में राजस्थानी ज्वेलरी की विशाल रेंज देखी जा सकती है.

इसे भी पढ़ें: मिट्टी के दीयों से सजा बाजार, जगह-जगह लगा है दिवाली बाजार

आकर्षक होम डेकोर आइटम

जितनी खरीदारी महिलाये यहां विवाह आयोजन के लिए कर रही हैं. उतना ही दिवाली के लिए भी महिलाओं को खरीदारी करते देखा गया. लखनऊ के स्टॉ फॉर्ब्‍स में होम डेकोर के नये-नये आइटम देखे जा सकते हैं. जिनमें हैंगिग पॉट, हैंगिग लाइट, वॉल हैंगिग जिनमें फ्लोरल, जियोमैट्री समेत अन्य डिजाइन देखे जा रहे हैं. वहीं जागृति कलेक्‍शन नागपुर के स्टॉल में घर सजाने के लिए लेटेस्ट आइटम देखे जा रहे हैं. मेला में हस्तशिल्‍प और कपड़ों के भी स्टॉल लगे हैं.

मौके पर फैशन प्वाइंट की निदेशक रीना अग्रवाल, आशा अग्रवाल, पूनम अग्रवाल, सीमा अग्रवाल, नीतिश, जान्हवी समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: