न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अमेरिका के संयुक्त राष्ट्र में चीन के साथ टकराव की संभावना, मसूद को प्रतिबंधित करने की बात बनी वजह

56

United Nations : अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में बुधवार को एक मसौदा प्रस्ताव भेजा जिसमें पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद के सरगना अजहर मसूद को प्रतिबंधित करने की बात की गई है. इस कदम के बाद अमेरिका के संयुक्त राष्ट्र में चीन के साथ संभावित टकराव की स्थिति बन गई है.

इसे भी पढ़ेंःराहुल के आरोपों पर ममता का पलटवार, कहा- अभी वह बच्चे हैं

फरवरी में हुए आत्मघाती हमले को लेकर भारत व पाकिस्तान में बढ़ा तनाव

चीन ने अजहर को संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबंध सूची में शामिल करने के प्रयास में इस महीने की शुरुआत में अड़ंगा डाल दिया था. संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंध समिति में यह प्रयास अटक जाने के बाद अमेरिका अजहर को प्रतिबंधित करने के प्रस्ताव को लेकर सीधे सुरक्षा परिषद पहुंच गया. गौरतलब है कि कश्मीर में 14 फरवरी को हुए जैश के एक आत्मघाती हमले में 40 जवान शहीद हुए थे. इस हमले के बाद भारत और पाकिस्तान में तनाव बढ़ गया है.

इसे भी पढ़ेंः‘मिशन शक्ति’ पर कांग्रेस से जेटली का सवालः सरकार में रहते क्यों नहीं दी थी इजाजत

Related Posts

#NobelPrizeforEconomics: भारतीय मूल के अमेरिकी अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी व उनकी पत्नी समेत तीन को अर्थशास्त्र का नोबेल

एस्थर डुफलो (Esther Duflo) और माइकेल क्रेमर (Michael Cramer) के साथ अभिजीत बनर्जी को नोबेल पुरस्कार दिया गया है

मसौदा प्रस्ताव पर चीन कर सकता है वीटो

मसौदा प्रस्ताव में इस आत्मघाती हमले की निंदा की गई है और निर्णय किया गया है कि अजहर को संयुक्त राष्ट्र के अल-कायदा एवं इस्लामिक स्टेट प्रतिबंधों की काली सूची में रखा जाएगा.

हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि मसौदा प्रस्ताव पर मतदान कब होगा. इस पर चीन वीटो कर सकता है. परिषद के पांच स्थायी सदस्यों में ब्रिटेन, फ्रांस, रूस और अमेरिका के साथ चीन शामिल है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like