NEWS

अमेरिका-मेक्सिको की सीमा पर अकेले आये नाबालिगों की देखरेख के लिए अमेरिकी संघीय एजेंसी करेगी मदद

Wilmington :  अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन का प्रशासन अवैध रूप से मेक्सिको की सीमा पार करके अभिभावकों या किसी वयस्क के बिना अमेरिका आए प्रवासी नाबालिगों की देख-रेख और उनके प्रबंधन के लिए संघीय आपात प्रबंधन एजेंसी (एफईएमए) की मदद लेगा. गृह सुरक्षा मंत्री एलेजांद्रो मायोरकस ने शनिवार को बताया कि ‘एफईएमए’ अमेरिका की दक्षिण पश्चिम सीमा पर अभिभावकों या किसी वयस्क के बिना अकेले आने वाले नाबालिगों के शरण और उनके स्थानांतरण के लिए सरकार के प्रयासों में मदद करेगी.

 

इसे भी पढ़ेंः Ranchi mob lynching : सचिन के शरीर को सिगरेट से दागा गया और पेचकस घोपा गया था

 

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, अमेरिकी सीमा पर मेक्सिको से रोजाना सैकड़ों बच्चे अवैध तरीके से आ रहे हैं और उन्हें हिरासत में लिया जा रहा है.

 

Catalyst IAS
ram janam hospital

गृह सुरक्षा विभाग को इन बच्चों को अमेरिका आने के तीन दिन में स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्रालय को सौंपना होता है, ताकि उन्हें उनके आव्रजन मामले सुलझने तक या तो अमेरिका में रह रहे उसके किसी अभिभावक के पास या किसी अन्य उचित व्यक्ति की शरण में भेजा जा सके, लेकिन स्वास्थ्य एवं मानव सेवा विभाग के पास उन्हें स्थानांतरित करने की क्षमता नहीं बची है, जिसके कारण बच्चों को लंबे समय तक ‘सीमा गश्त’ सुविधाओं में रखा जा रहा है.

 

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

मायोरकस ने कहा कि एफईएमए स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्रालय के साथ मिलकर काम कर रही है, ताकि ‘‘इन बच्चों को उचित स्थान पर रखने की क्षमता में शीघ्र विस्तार करने के हर उपलब्ध विकल्प पर गौर किया जा सके.’’ बाइडन ने अवैध रूप से आने वाले प्रवासी बच्चों को निष्कासित करने की पूर्ववर्ती राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीति को रद्द कर दिया है, लेकिन प्रवासी परिवारों और वयस्कों का निष्कासन जारी है.

इसे भी पढ़ेंः बंगाल चुनाव : दीदी व्हील चेयर पर उतरी चुनावी दंगल में, भरी हुंकार, किसी के सामने झुकेंगे नहीं

Related Articles

Back to top button