JharkhandRanchi

कांटाटोली फ्लाइओवर कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे नगर विकास सचिव, कहा- पाइपलाइन शिफ्ट कर जल्द बने सर्विस रोड

  • कांटाटोली फ्लाइओवर निर्माण करनेवाली एजेंसी की कार्यशैली पर बरसे सचिव
  • नये सिरे से योजना बना कर कार्य पूरा करने का निर्देश

Ranchi: राजधानी स्थित कांटाटोली में बन रहे प्लाइओवर निर्माण कार्य की धीमी गति को देख नगर विकास सचिव अजय कुमार सिंह ने नाराजगी जतायी है. शुक्रवार को वे प्लाइओवर कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे. उन्होंने कार्य देख रहे मोदी प्रोजेक्ट्स से जुड़े अधिकारियों को एक माह के अंदर पाइपलाइन शिफ्ट कर सर्विस रोड बनाने का निर्देश दिया. साथ ही कहा कि निर्माण कार्य ऐसा हो जिससे राहगीरों एवं वाहन चालकों को किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हो. इस दौरान रांची नगर निगम के नगर आयुक्त मनोज कुमार, जुडको के परियोजना निदेशक सुधीर कुमार साहू, परिवहन महाप्रबंधक अशोक कुमार, अपर महाप्रबंधक सुशील कुमार सहित पेयजल एवं स्वच्छता विभाग, बिजली विभाग के अभियंता एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – वाराणसी में मोदी के लिए जुटी भीड़ देख हिटलर के लिए जमा होने वाली भीड़ की याद आ गयी यशवंत सिन्हा को

प्लाइओवर निर्माण में खर्च होंगे 192 करोड़ रुपये

मालूम हो कि कांटाटोली फ्लाइओवर के निर्माण में कुल 192 करोड़ रुपये खर्च होंगे. जिसमें लगभग 40 करोड़ रुपये फ्लाइओवर के निर्माण में खर्च होंगे. फ्लाइओवर में 19 खंभे बनेंगे. यह प्लाइओवर 1.25 किलोमीटर लंबा और 16.6 मी चौड़ा होगा. फ्लाइओवर के नीचे 6-6 मीटर चौड़ी सड़क और 10 मीटर का यूटीलिटी डक्ट भी बनेगा.

advt

इसे भी पढ़ें – जामताड़ा : कोयला जब्त हुआ, गिरफ्तारी का आदेश भी, खुला घूम रहा माफिया, अवैध कारोबार फिर से शुरु

अधिकारी ध्यान रखें, न हो किसी तरह की परेशानी

नगर विकास सचिव ने स्पष्ट कहा कि फ्लाइओवर के निर्माण के क्रम में किसी भी हालत में यातायात प्रभावित नहीं होना चाहिए. राहगीरों एवं वाहन चालकों को भी किसी किस्म की कठिनाई नहीं होनी चाहिए. इसके लिए जरूरी है कि यहां के पाइप लाइन को जल्द शिफ्ट किया जाये. और जल्द से जल्द चौड़ी एवं मजबूत सर्विस लेन बनायी जाये. जुडको एवं एजेंसी के अधिकारियो ने सचिव को बताया कि फ्लाइओवर के निर्माण में कांटाटोली चौक से आगे मंगल टावर के पास एक आवास, पुल, मंदिर एवं एक बिजली के खंभे से परेशानी हो रही है. इस पर सचिव ने कहा कि इसका समाधान निकाला जायेगा.

इसे भी पढ़ें- प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी सीट से नामांकन दाखिल किया, सुषमा, बादल, नीतीश, पासवान, उद्धव रहे मौजूद

काम में ढिलाई और देरी बर्दाश्त नहीं

मोदी प्रोजेक्ट के अधिकारियों को निर्देश देते हुए सचिव ने कहा कि बिजली के तार, पेयजलापूर्ति पाइप लाइन को शिफ्ट करने के लिए नये डिजायन पर वे काम करें. इससे पहले इस पाइप लाइन को तत्काल शिफ्ट कर दिया जाये और बाद में पाइप लाइन को नये पुल के ऊपर किनारे-किनारे ले जाया जाये. निर्देश दिया कि काम में ढिलाई और देरी किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी. उन्होंने कहा कि अगर निर्माण कार्य में संबंधित अधिकारियों को कोई परेशानी आ रही हो तो उनसे वे तत्काल संपर्क करें.

adv

इसे भी पढ़ें – चाउमिन खिलाने के बहाने लड़की को बुला कर किया सामूहिक दुष्कर्म, पुलिस ने तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button