Bihar

उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी पर उठाये सवाल, कहा- बीजेपी में अंदरूनी मतभेद, जातीय जनगणना से धर्म का कोई मतलब नहीं

Patna : बिहार में लगातार जातीय जनगणना की मांग की जा रही है सत्ता पक्ष और विपक्ष एक सुर में जातीय जनगणना कराने की बात कह रहे हैं और इसी बीच जातीय जनगणना को लेकर जेडीयू नेता उपेंद्र कुशवाहा का बड़ा बयान सामने आया है.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि जातीय जनगणना को लेकर बीजेपी के अंदर ही विवाद चल रहा है. बीजेपी में बड़ी तादाद में ऐसे लोग हैं जो जाति जनगणना का समर्थन करते हैं.

इसे भी पढ़ें :रांची के डीसी को तत्काल प्रभाव से हटाया जाये : भुनेश्वर मेहता

ram janam hospital
Catalyst IAS

लेकिन कुछ लोग बीजेपी के अंदर से ही जातीय जनगणना पर सवाल खड़े करते हैं. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बीजेपी को अपनी अंदरूनी सियासत ठीक करनी चाहिए. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि जातीय जनगणना देश के लिए बेहद जरूरी है. इसे हर हाल में लागू करना चाहिए.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

आपको बता दें कि बिहार में आरजेडी व जेडीयू समेत तमाम दल जातीय जनगणना कराना चाहते हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हुई मुलाकात सकारात्मक रही. JDU को उम्मीद है कि केंद्र सरकार जातीय जनगणना को लेकर जरूर फैसला लेगी.

इसे भी पढ़ें :ऐड एजेंसियों का 4 करोड़ बकाया, 1 हफ्ते में नहीं भरी राशि तो होंगे ब्लैक लिस्टेड

उपेंद्र कुशवाहा ने जातीय जनगणना के मसले पर कांग्रेस को भी कटघरे में खड़ा किया है. श्री कुशवाहा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी भी इस मसले पर दूध की धुली हुई नहीं है.

उन्होंने कहा कि साल 2010 में सर्वसम्मति से जातीय जनगणना को लेकर सहमति बनी थी लेकिन बावजूद इसके कांग्रेस की नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने इस पर निर्णय नहीं लिया.

इसे भी पढ़ें :अब नयी तकनीक से खेती बारी के जरिये अपनी तकदीर बदलेंगी जनजातीय समाज की महिलाएं

Related Articles

Back to top button