Lead NewsNationalNEWSTOP SLIDERUttar-Pradesh

यूपी : फिरोजाबाद में दर्दनाक हादसा, एक ही परिवार के 6 लोग जिंदा जले, रेस्क्यू जारी

CM योगी ने किया 2 लाख की आर्थिक सहायता का ऐलान

Firozabad : फिरोजाबाद के जसराना में मंगलवार को इलेक्ट्रॉनिक और फर्नीचर की दुकान में भीषण आग लगने से एक ही परिवार के 6 लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई. इस आगलगी की घटना में 3 लोग गंभीर रूप से झुलस गए है.  समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है. हादसे के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई. आनन-फानन में हादसे की सूचना पुलिस औऱ दमकल विभाग को दी गई. सूचना मिलने के बाद भारी संख्या में पुलिस और फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंची.

फिरोजाबाद के एसपी आशीष तिवारी ने बताया कि ये हादसा जसराना क्षेत्र के पाढ़म कस्बे में हुआ है. यहां एक इन्वर्टर में शॉर्ट सर्किट हो गया था. जिसने भीषण आग का रूप ले लिया. उन्होंने बताया कि हादसे में एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत हो गई है. इसमें 4 बच्चे भी शामिल हैं. मौके पर पुलिस और दमकल की 18 गाड़ियां मौजूद हैं.

18 फायर ब्रिगेड और 12 थानों की पुलिस रेस्क्यू में जुटी

फिरोजाबाद के एसपी आशीष तिवारी ने कहा कि मौके पर आगरा, मैनपुरी, एटा और फिरोजाबाद से 18 दमकल आग बुझाने में जुटी हुई हैं. साथ ही 12 थानों की पुलिस भी मौके पर मौजूद है. उन्होंने कहा कि यह भीड़भाड़ वाला इलाका है, इसलिए बचावकर्मियों को अतिरिक्त प्रयास करने पड़े. उन्होंने कहा कि हम अभी भी यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि कोई भी अंदर फंसा तो नहीं है. फिलहाल रेस्क्यू जारी है.

आग से तबाह हो गई बिल्डिंग

पुलिस के मुताबिक दुकान में आग लगने की वजह से लपटों ने पूरी इमारत को अपनी जद में ले लिया. भीषण हादसे में जान गंवाने वाला परिवार उसी इमारत में रहता था.

CM योगी ने किया 2 लाख की आर्थिक सहायता का ऐलान

फिरोजाबाद में हुए भीषण हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुःख जताया है. इसके साथ ही सीएम योगी ने हादसे में जान गंवाने वालों की आत्मा की शांति की कामना करते हुए परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. वहीं, सीएम योगी ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने के निर्देश दिए.

इसे भी पढ़ें: Jharkhand: सुप्रीम कोर्ट ने सोरेन सरकार को जारी किया नोटिस, निकाय चुनाव में ओबीसी आरक्षण नहीं देने का मामला

Related Articles

Back to top button