NationalUttar-Pradesh

राजनाथ की पहल पर दिल्ली-नोएडा बॉर्डर खुला, नरम पड़े यूपी के किसान

अन्य किसान संगठन अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं. किसान यूनियन के नेताओं ने ऐलान किया है कि रविवार को 'दिल्ली चलो' मार्च शुरू करेंगे,14 दिसंबर को भूख हड़ताल पर बैठेंगे.

NewDelhi : किसानों और सरकार के बीच कृषि आयोग के गठन को लेकर सहमति बनने के बाद कृषि कानून के विरोध में चल रहा यूपी के किसानों का आंदोलन खत्‍म होने की खबर है.  जानकारी के अनुसार यूपी के किसानों ने नोएडा के सेक्टर-14ए चिल्ला बॉर्डर खाली कर दिया है. यह बॉर्डर 12 दिन बाद खुला है.

नोएडा से दिल्ली के बीच आवागमन शुरू हो गया है. बता दें कि जनता की परेशानी को देखते हुए किसानों ने बॉर्डर से हटने का फैसला लिया है.  लेकिन बाकी किसान संगठन अपनी मांगों को लेकर अड़े हुए हैं.

 इसे भी पढ़े : 14 दिसंबर 2020 को साल का अंतिम सूर्यग्रहण, भारत में यह दिखाई नहीं देगा, सूतक नहीं लगेगा

  रविवार 12 बजे यूनियन के पदाधिकारियों की बैठक

खबर है कि रविवार दिन के 12 बजे यूनियन के पदाधिकारियों की बैठक होगी. सेक्टर-14ए पर भारतीय किसान यूनियन(भानू गुट) के शीर्ष पदाधिकारी सुबह 12 बजे  धरना आगे जारी रहेगा या नहीं इस पर  फैसला करेंगे.   आगे का फैसला कार्यकारिणी मीटिंग में किया जायेगा.

इसी के साथ सेक्टर-14ए चिल्ली बॉर्डर पर दिल्ली सीमा में खड़ी आरएएफ, आरपीएफ भी हटाई गयी है। दिल्ली के फेस-1 एसएचओ विवेक और एसीपी सचिन सिंघल भी मय फोर्स के साथ बॉर्डर से हट गये हैं.

चिल्ला बॉर्डर के किसान देर रात राजनाथ सिंह से मिले

चिल्ला बॉर्डर के किसान देर रात दिल्ली जाकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिले थे,  कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी   किसानों के साथ बातचीत में शामिल थे.  दोनों पक्षों के बीच बातचीत के बाद यह बॉर्डर खोल दिया गया.  इस बैठक में 18 सूत्रीय मांगे रखी गयी. इन मांगों में न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य या एमएसपी का जिक्र नहीं है. लेकिन इसके अलावा बाकी किसान संगठन अपनी मांगों को लेकर अड़े हुए हैं.

 इसे भी पढ़े : देश के 18 राज्यों, केंद्रशासित प्रदेशों में पांच साल से कम उम्र के बच्चों की मृत्यु दर घटी

अन्य  किसान संगठन रविवार को दिल्ली चलो मार्च शुरू करेंगे

लेकिन इसके अलावा बाकी किसान संगठन अपनी मांगों को लेकर अड़े हुए हैं. किसान यूनियन के नेताओं ने ऐलान किया है कि रविवार को ‘दिल्ली चलो’ मार्च शुरू करेंगे और 14 दिसंबर को भूख हड़ताल पर बैठेंगे. रविवार को सुबह 11 बजे राजस्थान के शाहजहांपुर के किसान जयपुर-दिल्ली राजमार्ग के जरिए दिल्ली चलो मार्च शुरू करेंगे.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: