Uncategorized

UP में सबसे ज्यादा 12.77 लाख लोगों के पास बंदूक का लाइसेंस, जम्मू कश्मीर दूसरे स्थान पर

News Wing

New Delhi, 02 October: बंदूकों के लाइसेंसों वाले राज्यों की सूची में उत्तर प्रदेश का नाम सबसे ऊपर है. यूपी में 12.77 लाख लोगों के पास हथियार रखने का लाइसेंस है. इस मामले में आतंकवाद प्रभावित राज्य जम्मू कश्मीर दूसरे स्थान पर है, जहां 3.69 लाख लोगों के पास बंदूक रखने का लाइसेंस है.

advt

गृह मंत्रालय द्वारा जारी किये गये हैं ये आंकड़े

गृह मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, 31 दिसंबर 2016 तक के आंकड़े के अनुसार, देश में बंदूकों के जारी लाइसेंस की संख्या कुल 33,69,444 है. जिसमें बंदूक रखने के सर्वाधिक लाइसेंस उत्तर प्रदेश में हैं. यहां 12,77,914 लोग हथियार रख सकते हैं. हथियर का लाइसेंस लेनेवाले लोगों में से ज्यादातर ने निजी सुरक्षा के नाम पर लाइसेंस प्राप्त किये हैं. वर्ष 2011 की जनगणना के आंकड़ों के के अनुसार इस राज्य की जनसंख्या 19,98,12,341 है.

जम्मू कश्मीर दूसरे स्थान पर

वहीं करीब तीन दशक से आतंकवाद से पीड़ित जम्मू कश्मीर में 3,69,191 लोगों के पास बंदूक के लाइसेंस हैं. इसमें प्रतिबंधित बोर और गैर प्रतिबंधित बोर, दोनों ही तरह के हथियार शामिल हैं. साल 2011 की जनगणना के मुताबिक, प्रांत की कुल आबादी 1,25,41,302 है.

पंजाब में आतंकवाद के दो दशकों के दौरान जारी किये गये सबसे ज्यादा लाइसेंस

1980 और 90 के दशक में आतंकवाद से पीड़ित रहे पंजाब में बंदूक के लाइसेंस की संख्या 3,59,349 है. इनमें से ज्यादातर लाइसेंस राज्य में आतंकवाद के दो दशकों के दौरान जारी किये गये थे. वर्ष 2011 की जनगणना के मुताबिक, पंजाब की कुल आबादी 2,77,43,338 है.

बिहार 82,585 लोगों के पास बंदूक रखने का लाइसेंस

इसमें बताया गया है कि इसके बाद मध्य प्रदेश में 2,47,130 और हरियाणा में 1,41,926   है. अन्य राज्यों में राजस्थान में (1,33,968 लाइसेंस), कर्नाटक (1,13,631), महाराष्ट्र (84,050), बिहार (82,585), हिमाचल प्रदेश (77,069), उत्तराखंड (64,770), गुजरात (60,784) और पश्चिम बंगाल (60,525) हैं. आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में लाइसेंसशुदा बंदूकधारियों की संख्या 38,754 है, जबकि नगालैंड में 36,606, अरूणाचल प्रदेश में 34,394, मणिपुर में 26,836, तमिलनाडु में 22,532 और ओडिशा में 20,588 लाइसेंस जारी किये गये हैं.

सबसे कम लाइसेंस केंद्र शासित प्रदेशों में

मंत्रालय के मुताबिक, सबसे कम लाइसेंस केंद्र शासित प्रदेशों दमन और दीव तथा दादरा और नागर हवेली में जारी किये गये. इन प्रदेशों में केवल 125-125 लाइसेंस जारी किए गए.

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: