न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

उन्नाव गैंगरेप केसः विधायक सेंगर के खिलाफ सीबीआई ने दाखिल की चार्जशीट

पीड़िता के आरोपों को ठहराया सही

346

Lucknow: उन्नाव गैंगरेप केस में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर व शशि सिंह के खिलाफ सीबीआई ने चार्जशीट दाखिल की है. दोनों को आरोपी बनाते हुए सीबीआई ने बुधवार को चार्जशीट दाखिल कर दी. दोनों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट भी लगाया गया है. इस चार्जशीट के आधार पर विधायक व शशि सिंह पर रेप का केस चलेगा.

इसे भी पढ़ेंः जयंत सिन्‍हा के खेद में मॉब लिंचिंग की निंदा नहीं है

क्या है चार्जशीट में

विधायक सेंगर पर आरोप है कि उसने 4 जून, 2017 को पीड़िता से अपने आवास पर रेप किया था. पीड़िता को शशि सिंह उसके पास लेकर गई थी और जिस वक्त विधायक रेप कर रहा था तो वो कमरे से बाहर खड़ी होकर पहरा दे रही थी. सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में पीड़ित युवती के आरोपों को सही ठहराया है. सीबीआई ने चार्जशीट विशेष न्यायाधीश वत्सला श्रीवास्तव की अदालत में दाखिल की है.

पहली चार्जशीट में पांच लोग आरोपी

इससे पहले 7 जुलाई को सीबीआई द्वारा दाखिल की गई चार्जशीट में कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सिंह सेंगर सहित पांच को आरोपी बनाया गया था. बता दें कि पहली चार्जशीट गैंगरेप पीड़िता के पिता की हत्या से जुड़ी हुई थी. दरअसल पीड़िता के पिता को बुरी तरह पीटा गया था जिससे वो बुरी तरह घायल हो गये और समय पर इलाज नहीं मिलने से उसकी मौत हो गई थी.

palamu_12

मामले को दबाने में लगी थी यूपी पुलिस

गौरतलब है कि उन्नाव गैंगरेप केस में यूपी पुलिस की कार्यशैली पर कई सवाल उठे. पुलिस पर भाजपा विधायक को बचाने का आरोप भी लगा. 17 वर्षीय किशोरी ने आरोप लगाया था कि नौकरी दिलाने के सिलसिले में रिश्तेदार महिला शशि सिंह 4 जून, 2017 को उसे विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के उन्नाव स्थित घर ले गई थी. वहां विधायक ने उससे दुष्कर्म किया. शिकायत के बावजूद उन्नाव पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. इस पर पीड़िता ने सीएम योगी आदित्यनाथ के आवास पर आत्मदाह की कोशिश की थी.

वही मामले को तूल पकड़ता देख सीएम योगी ने मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी. विधायक का दबदबा ऐसा था कि जब पीड़िता का पिता मामले की पैरवी करने दिल्ली से उन्नाव पहुंचा तो बजाय सुनवाई के उसके ही खिलाफ अवैध शस्त्र रखने का आरोप लगाकर उसे जेल भेज दिया गया. इतना ही नहीं, माखी थाने में विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर व समर्थकों ने उसे इतना पीटा कि गंभीर रूप से घायल पिता ने दम तोड़ दिया. इस मामले में थानेदार व एक अन्य दरोगा पर केस दर्ज कर दोनों को जेल भेजा जा चुका है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: