न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जब तक पारा शिक्षकों की मांग पूरी नहीं होगी, नहीं चलने देंगे सदन : जगरनाथ

बोकारो जिला मुख्यालय में पारा शिक्षकों ने किया प्रदर्शन

1,224

Bokaro: जिला मुख्यालय पर दोपहर बाद जिले के सभी प्रखंडों एवं शहरी क्षेत्रों के पारा शिक्षकों का जुटान हुआ, जहां पर सभा का आयोजन हुआ. प्रदर्शन के दौरान आयोजित सभा का संबोधित करते हुए विधायक जगरनाथ महतो ने कहा कि पारा शिक्षकों के साथ रघुवर सरकार ने अन्याय किया है. इस अन्याय के खिलाफ पूरे राज्य के पारा शिक्षकों को आंदोलन में डटे रहना है. उनकी मांगों के साथ झारखंड मुक्ति मोर्चा खड़ा है. पार्टी सुप्रीमो शिबू सोरेन ने ऐलान किया है कि पारा शिक्षकों की आंदोलन जायज है और उनकी मांगों को लेकर झामुमो आंदोलन करेगा. आने वाले विधान सभा सत्र के दौरान झामुमो उस वक्त तक चलने नहीं देगी, जब तक पारा शिक्षकों की मांग को लेकर सरकार सदन में जवाब नहीं देती है.

तानाशाही तरीके से काम कर रही सरकार

उन्होंने कहा कि सालों से सुदूर गांवों के स्कूलों में बच्चों को शिक्षा देने वाले पारा शिक्षकों के साथ यह सरकार प्रारंभ के दिनों से ही अन्याय कर रही है. इनके शिक्षा मंत्री भी मांगों को लेकर फेल हो चुके हैं. वहीं हर बार पारा शिक्षकों को डराने और धमकाने का काम भी मुख्यमंत्री कर रहे हैं. यह सरकार पूरी तरह से तानाशाही तरीके से काम कर रही है, इसे अब किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा.

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष मंजूर अंसारी ने कहा कि सरकार का रवैया पारा शिक्षकों के प्रति शुरु से ही खराब रहा है. जब वे अपनी मांगों को लेकर सरकार के पास पहुंचे थे, तो उन पर लाठी चलाकर सरकार ने तानाशाही का परिचय दिया है. इसलिए पूरा विपक्ष उनकी मांगों को लेर सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन के लिए तैयार है. ऐसी परिस्थिति में पारा शिक्षकों को अपना आंदोलन लगातार जारी रखना है.

छत्‍तीसगढ़ की तर्ज पर मानदेय दे सरकार

पारा शिक्षक संघ के सरंक्षक विक्रांत ज्योति ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट जब ‘समान काम का समान वेतन’ देने का निर्देश केंद्र और राज्य सरकार को दे चुकी है, तब सरकार सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का पालन क्‍यों नहीं कर रही है. पड़ोस के राज्य छतीसगढ़ में पारा शिक्षकों को सरकार जो मानदेय दे रही है, उसी तरह का मानदेय भी यहां के शिक्षकों को मिले.

सभा को जिला परषिद सदस्य सुनीता टुडू, जेवीएम के डॉ प्रकाश, राजद के जिलाध्यक्ष बुद्धनारायण यादव सहित कई लोगों ने संबोधित किया. सभा की अध्यक्षता पारा शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष नारायण महथा ने किया. मौके पर सचिव कालीचरण रवानी, कोषाध्यक्ष संजय पांडेय, प्रदेश संयोजक विनोद बिहारी, महेंद्र कुमार नायक, भोला रवानी, चक्रधारी सिंह, नीलू सिंह, शमसूल निशा, डोमन महतो, कपिलेश्वर महतो, संजय महतो, सुरेश महतो, केदार महतो, वसुंधरा मुखर्जी, रामजीत महतो,बालगोविंद के अलावे काफी संख्या में पारा शिक्षक मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंः घोषणा कर पुलिसवालों को भरोसा दिलाया, खुद ही भूल गए रघुवर दास, परिवार अब लगा रहा दफ्तरों के चक्कर

इसे भी पढ़ेंः पटरी से उतरी प्रदेश की बिजली व्यवस्था, राज्य के पावर प्लांट से सिर्फ 208 मेगावाट उत्पादन 

इसे भी पढ़ेंः पलामू : सड़कों पर दिखा पारा शिक्षकों का आक्रोश, थम गयी शहर की रफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: