JamshedpurJharkhandLead NewsRanchi

झारखंड की ऐसी यूनिवर्सिटी जहां न तो कुलपति हैं ना ही स्टाफ, रजिस्ट्रेशन शुरू

तीन साल पहले पीएम मोदी ने किया था शिलान्यास

Rahul Guru

  • 3 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री ने ऑनलाइन किया था शिलान्यास
  • 56 करोड़ राज्य सरकार 33 करोड़ भारत सरकार ने दिया निर्माण के लिए
  • इसी साल से शुरू हुआ रजिस्ट्रेशन
  • पांच दस्तावेज नहीं मिल पाने से विवि नहीं ले रहा न्य भवन

Ranchi : झारखंड में एक ऐसी भी यूनिवर्सिटी है जो बीते तीन साल से बिना कुलपति और पर्याप्त कर्मियों के संचालित है. इस विवि का भवन बनकर तैयार है पर अबतक विवि प्रशासन को हैंडओवर नहीं हुआ है. जी हां, हम बात कर रहे हैं राज्य के एकमात्र और देश के गिनेचुने महिला विश्वविद्यालय के रुप में शुरू हुए महिला विश्वविद्यालय, जमशेदपुर की. मजे की बात यह है कि इस विवि का शिलान्यास पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों हुआ था. इस साल से यहां से विश्वविद्यालय के रुप में स्टूडेंट्स का रजिस्ट्रेशन भी शुरू हो चुका है. यह विश्वविद्यालय कब से अपने फुल स्ट्रेंथ में संचालित होगा यह कहा नहीं जा सकता है.

advt

इसे भी पढ़ें : 15वें वित्त आयोग में पंचायतों के विकास में खर्च होंगे 6585 करोड़, बदलेगी गांवों की सूरत

3 फरवरी 2019 को पीएम किया था शिलान्यास

राज्य की बेटियों की शैक्षणिक सुदृढ़ता देने के उदेश्य से इस विवि की स्थापना की गयी थी. दरअसल जमशेदपुर महिला महाविद्यालय को ही अपग्रेड कर इस विवि को शुरू किया गया है. इसका शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऑनलाइन माध्यम से 3 फरवरी 2019 को इसका शिलान्यास किया था. इसे भारत सरकार की ओर से संचालित राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान व झारखंड सरकार के उच्च तकनीकी शिक्षा विभाग के संयुक्त प्रयास से संचालित करना है. इस विवि की स्थापना आदि पर तकरीबन 80 करोड़ से अधिक की राशि आवंटित की गयी है. जिसमें 56 करोड़ राज्य सरकार 33 करोड़ भारत सरकार ने दिया है.

इसी साल से शुरू हुआ रजिस्ट्रेशन

महिला विश्वविद्यालय में बतौर विवि स्टूडेंट्स का रजिस्ट्रेशन इसी सत्र से शुरू कर दिया गया है. लेकिन विवि का संचालन कैसे हो, स्टूडेंट्स के डेटा डिटेल्स और अन्य जरुरी काम कैसे किये जायेंगे इसके लिए पदाधिकारियों की नियुक्ति नहीं हो पायी है. 3 फरवरी 2019 को शिलान्यास होने के बाद 15 फरवरी 2019 को विधि विभाग की ओर से अधिसूचना जारी कर दी गयी थी. जिसमें इसे विश्वविद्यालय करार दे दिया गया. अब लगभग तीन साल होने को है फिर भी संपूर्ण तरीके से यह विवि संचालित होने की राह देख रहा है.

भवन निर्माण निगम दे पांच दस्तावेज, तो ही हो पायेगा हैंडओवर

जमशेदपुर के एग्रिको इलाके में सूर्य मंदिर के पीछे लगभग 18 एकड़ जमीन में विवि का भवन तैयार है. यह भवन इसी साल फरवरी में बना कर तैयार कर दिया गया है. लेकिन भवन अब तक विवि को नहीं मिल पाया है. विवि के इस भवन को भवन निर्माण निगम लिमिटेड ने बनाया है. मिली जानकारी के अनुसार उच्च शिक्षा विभाग ने महिला विवि को आठ दस्तावेज भवन निर्माण निगम लिमिटेड से प्राप्त करने के बाद भवन लेने का निर्देश दिया था. इसमें से केवल तीन दस्तावेज ही विवि को मिले हैं. इस बाबत जो पत्र भेजा गया है उसमें कहा गया है कि भवन निर्माण निगम लिमिटेड की ओर से Completion plan, Occrupancy Certificate, Self Declaration Certificate, Quality Certificate For Civil Work और Third Party Inspection Report नहीं दिया गया है.

इसे भी पढ़ें : रांची के नगड़ी से लादेन सहित तीन उग्रवादी गिरफ्तार, लेवी लेने पहुंचे थे सभी

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: