न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची विश्वविद्यालय में विश्वविद्यालय स्तरीय चुनाव संपन्न, नेहा मार्डी बनीं अध्यक्ष

57.5 प्रतिशत वोट पड़े, कुछ प्रत्याशियों को एक भी वोट नहीं मिले

129

Ranchi: रांची विश्वविद्यालय का विश्वविद्यालय स्तरीय चुनाव गुरुवार को संपन्न हुआ. चुनाव के बाद विश्वविद्यालय की ओर से नतीजे तुरंत जारी कर दिये गये. जिसमें अध्यक्ष नेहा मार्डी, उपाध्यक्ष कुणाल कुमार शर्मा, सचिव सौरभ बोस, उप सचिव अंकित रंजन और संयुक्त सचिव सौरभ कुमार चुने गये.

चुनाव में कुल 57.5 प्रतिशत वोट पड़े.  जियोलॉजी विभाग में आयोजित चुनाव में सुबह से ही छात्रों की हलचल देखी गयी. रांची विवि अंतर्गत आने वाले सभी 16 कॉलेजों के कॉलेज स्तर पर चुनाव जीत चुके छात्रों ने मताधिकार का प्रयोग किया. कुछ कॉलेजों एक भी वोट नहीं दिये गये. जीते हुए सभी प्रत्याशी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के हैं.

इन कॉलेजों से नहीं पड़ा एक भी वोट

विश्वविद्यालय स्तरीय चुनाव में पंच परगना कॉलेज, बीएस कॉलेज और रामलखन सिंह यादव कॉलेज से एक भी वोट नहीं दिये गये. इन कॉलेजों के छात्र प्रतिनिधि चुनाव में शामिल  नहीं हुए. वहीं बीएन जालान कॉलेज, सिमडेगा कॉलेज और बिरसा कॉलेज खूंटी की ओर से एक-एक वोट दिये गये.

प्रत्याशियों को मिली निराशा

चुनाव परिणाम घोषित होते ही कई प्रत्याशियों के चेहरे पर मायूसी देखी गयी, क्योंकि जीते हुए प्रत्याशियों को छोड़कर अधिकांश को एक भी वोट नहीं मिले. ऐसे में प्रत्याशियों के साथ ही छात्र संघों में भी निराशा देखी गयी. इन प्रत्याशियों में अध्यक्ष पद के लिये नेहा मार्डी 44, कल्पति मुंडा 2 और संदीप उरांव को 00 वोट मिले. उपाध्यक्ष के लिए कुणाल कुमार शर्मा को 44 और पंचम मुंडा को एक वोट, सचिव सौरभ बोस को 45 और सोनू कुमार पंडित को 00, उप सचिव अंकित रंजन 44 और जीवंती सोरेन को 00, संयुक्त सचिव में नीलेश  लकड़ा को 00 और सौरभ कुमार को 45 वोट मिले.

एसीएस ने किया चुनाव का विरोध

छात्र संघ चुनाव के पूर्व कथित रूप से अगवा बीएस कॉलेज के चार छात्रों को आरयू कैंपस लाने और चुनाव में शामिल करने की मांग को लेकर आदिवासी छात्र संघ ने चुनाव का बहिष्कार किया. कथित रूप से अगवा छात्र आदिवासी छात्र संघ के चारों छात्र बुधवार को ही रांची आ गये थे. इसी बीच कचहरी से उनको अगवा करने की बात सामने आयी. जिसके बाद एसीएस के कार्यकर्ताओं ने कोतवाली थाना में बुधवार को देर रात प्राथमिकी दर्ज करायी थी. विवि चुनाव के दौरान एसीएस कार्यकर्ताओं ने चुनाव शुरू न होने और चारों छात्रों को कॉलेज लाने की मांग की. जिसके कारण 10: 30 से शुरू होने वाली वोटिंग 12:40 में शुरु हुआ.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: