ChaibasaJamshedpurJharkhandOFFBEAT

जमशेदपुर में हुआ अनूठा विवाह : ठुमके लगाते अपनी बारात लेकर पहुंची लड़की, महिलाओं ने किया मंत्रोच्चार

Syed shahroz quamar

लड़कियां बदल रही हैं तस्वीर. जिसपर परंपरा और रूढ़ियों की गर्द जमा थी. लड़कियां ज़मीन के रंग से उकेर रही हैं आसमान में इंद्रधनुषी इतिहास. यह कहानी एक ऐसी ही लड़की की है, जिसका साथ, साथ फूलों का. नाम ही है, सुरभि. जिसके मायने हैं, खुशबू, खूबसूरत.  जो अब सिंहभूम से उठकर महज़ झारखंड ही नहीं, देश-दुनिया को मोअत्तर (सुगंधित) कर रही है. अंग्रेज़ी में शायरी करने वाली सुरभि ने ऐसा कमाल किया है कि उनपर पत्रकार स्टोरी, लेखक कथा तो कवि कविताएं करते रहेंगे. कभी किसानों के बीच जैविक खेती का अभियान चलाने वाली इस लड़की ने एक ऐसे ट्रेंड का आग़ाज़ किया है, जिसकी गूंज दूर तक और देर तक सुनाई देगी.

Catalyst IAS
ram janam hospital

वो तारीख़ थी यही 21 फरवरी. जब वो दस साल पुराने दोस्त से परिणय सूत्र पुख़्ता करने गाते-गुनगुनाते, ठुमके लगाते ख़ुद बरात लेकर लौह नगरी जमशेदपुर के  एक होटल पहुंची. न घूंघट, न ललिया जूती-चप्पल. मेंहदी रचे पैर स्पोर्ट्स शू में बंद. जब मंडप में वर-वधु बैठे तो लोग पंडित जी को ढूंढने लगे. अचानक से महिला स्वर में मंत्रोच्चार होने लगे, तो सबकी निगाह सुदेशना और शिल्पी पर पड़ी, जो पुरोहित की भूमिका में विराजमान थीं.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

बदलाव की कहानी यहीं नहीं थमती. तब कोविड के प्रोटोकाल के सबब जो भी नगण्य संख्या सराती-बरातियों की थी, किसी को मिठाई नहीं दी गयी, बल्कि इसकी जगह सुगर फ्री ऑर्गेनिक बार और बीज वाली पेंसिलें बतौर तोहफ़ा दी गई. यह गुड हेल्थ और पर्यावरण संरक्षण का पैग़ाम था. पेंसिल की लीड ख़त्म हो जाये, तो बीज कहीं भी रोप दीजिये-पौधरोपण ज़िंदाबाद. जो ज़िंदगी को हरियाली से ख़ुशरंग कर दे. रंग तो सुरभि के अंत में और जमे. इस विवाह में कन्यादान नहीं हुआ. और विवाह बाद लड़की ने नहीं बल्कि गृह प्रवेश लड़के ने किया. फ़िलहाल डिजिटल मार्केटिंग के नये स्टार्टप में सक्रिय टाटा वासी सुरभि इसे न लव, ना ही अरेंज मैरिज मानती हैं, बल्कि इसे लॉजिकल वेडिंग कहती हैं. उनके जीवन-साथी प्रशांत शर्मा टाटा स्टील में मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं. घर उनका चक्रधरपुर हुआ.

नोट – (सैयद शहरोज कमर वरिष्ठ पत्रकार हैं. उन्होंने यह आलेख अपने फेसबुल वॉल पर डाला है. उनकी अनुमति से हम इसे प्रकाशित कर रहे हैं.)

 

Related Articles

Back to top button