JharkhandLead NewsRanchi

झारखंड दौरे पर केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल, जल शक्ति मिशन की समीक्षा

Ranchi : जल शक्ति मंत्रालय और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय के केंद्रीय राज्य मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल झारखंड दौरे पर हैं. गुरुवार को राजधानी रांची में कुछ निजी कार्यक्रमों में शामिल होने के अलावे जल शक्ति मंत्रालय द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में भी विभागीय अधिकारियों से जानकारी ली. हिनू स्थित राज्य जल जांच प्रयोगशाला में उन्होंने विजिट किया. जल जांच कार्यों की जानकारी ली. स्थानीय लोगों से इस सेवा के बारे में फीडबैक भी लिया.

इस दौरान उनके साथ पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सचिव प्रशांत कुमार, इंजीनियर इन चीफ श्वेताभ कुमार, एसबीएम डायरेक्टर डॉ नेहा अरोड़ा, चीफ इंजीनियर संजय कुमार झा सहित कई अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे.

इसके अलावे श्री पटेल ने बीआइटी मेसरा में फूड लैब विजिट किया. प्रदेश भाजपा कार्यालय भी गये. रजरप्पा (रामगढ़) में मां छिन्नमस्तिका मंदिर का दर्शन करने के बाद पारसनाथ (गिरिडीह) के लिए निकल गये.

इसे भी पढ़ें:रांची पहुंची इंडिया और न्यूजीलैंड की टीमें, खेलप्रेमियों को उम्मीद- रांची में सीरीज जीतेगी टीम इंडिया

जल जीवन मिशन की समीक्षा

19 नवंबर को प्रह्लाद पटेल देवघर में बाबा मंदिर जायेंगे. इसके बाद गिरिडीह में एनआइसी से राज्य के सभी जिलों के कार्यपालक अभियंता से जुड़ेंगे. जल जीवन मिशन योजना में आ रही समस्याओं और समाधान पर बात करेंगे.

योजना की सफलता के संबंध में विभागीय पदाधिकारियों को जरूरी निर्देश भी देंगे. इसके बाद 19 की रात को वापस दिल्ली लौट जायेंगे.

इसे भी पढ़ें:देश के लिए अभिशाप बन गयी है मोदी सरकार, आर्थिक मंदी, महंगाई और बेरोजगारी से लोग परेशान : राजेश ठाकुर

भाजपा कार्यालय में स्वागत

केंद्रीय मंत्री के भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में आगमन पर प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया. इस दौरान श्री प्रकाश ने झारखंड की समस्याओं को भी उनके समक्ष रखा. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में झारखंड को मिली नयी सौगात पर बधाई भी दी.

कहा कि राज्य के 19 जिलों के आठ सौ से अधिक गांवों में 4जी सेवा बेहतर होने से डिजिटाइजेशन को भी बढ़ावा मिलेगा. राज्यों में सोलर के उपयोग से 4जी सेवा मिलने से ऑनलाइन कार्यों को भी बढ़ावा मिलेगा.

जहां पर टेलीकॉम सेवाएं नहीं थीं, वहां अब मोबाइल सेवा के लिए मोबाइल टावर लगाये जायेंगे. सुदूरवर्ती गांवों को नेटवर्क से जोड़ने का प्रयास सराहनीय है. प्रधानमंत्री के डिजिटल भारत का सपना तेज गति से साकार करने की दिशा में यह मील का पत्थर साबित होगा.

इसे भी पढ़ें:एमजीएम अस्पताल : बाहर से चकाचक और अंदर गंदगी खचाखच, खतरनाक मेडिकल वेस्ट दे रहा बीमारियों को न्योता

श्री प्रकाश ने उनके समक्ष झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की 7वीं से 10वीं तक की राज्य सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा के रिजल्ट का मसला भी रखा. राज्य सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि जेपीएससी संचालन के जिम्मेवार लोग जेपीएससी के रिजल्ट के बजाए खेल पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं.

खेल जरूरी है किंतु छात्रों के जीवन से खिलवाड़ कर नहीं. रिजल्ट में धांधली हुई है. हेमंत सरकार बयानबाजी करने के बजाए बेरोजगारों को न्याय दिलाने की पहल करे. जेपीएससी के रिजल्ट ने प्रदेश को शर्मसार किया है.

इसे भी पढ़ें:Ranchi : RMC ने भारत और न्यूजीलैंड मैच के लिए संभाली कमान, एयरपोर्ट से लेकर होटलों तक सैनिटाइजेशन पर जोर

Advt

Related Articles

Back to top button