Sports

एसजी से नाखुश कोहली सभी टेस्ट मैचों में चाहते हैं ड्यूक की गेंद

Hyderabad  : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने गुरूवार को कहा कि दुनिया भर में टेस्ट क्रिकेट इंग्लैंड में बनी ड्यूक गेंद से खेला जाना चाहिए. उन्होंने एसजी गेंदों की खराब गुणवत्ता पर नाखुशी जतायी जिनका भारत स्वदेश में उपयोग करता है.

इसे भी पढ़ें : राहुल लगातार पीएम मोदी पर हो रहे हमलावर, कहा, मोदी हिंदुस्तान के नहीं, अंबानी के प्रधानमंत्री हैं

कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच से पहले कहा, मेरा मानना है कि ड्यूक की गेंद टेस्ट क्रिकेट के लिये सबसे उपयुक्त है. मैं दुनिया भर में इस गेंद के इस्तेमाल की सिफारिश करूंगा. इसकी सीम कड़ी और सीधी है और इस गेंद में निरंतरता बनी रहती है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

कोहली ने स्पिनर का किया समर्थन

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

गेंद के इस्तेमाल को लेकर आईसीसी के कोई विशिष्ट दिशानिर्देश नहीं हैं और हर देश अलग तरह की गेंदों का उपयोग करता है. भारत स्वदेश में बनी एसजी गेंदों का इस्तेमाल करता है. इंग्लैंड और वेस्टइंडीज ड्यूक जबकि आस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और श्रीलंका कूकाबूरा का उपयोग करते हैं.

इसे भी पढ़ें : टाइम्स नाऊ : राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव में भाजपा रहेगी घाटे में

कोहली से पहले ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा था कि वह एसजी की तुलना में कूकाबूरा से गेंदबाजी करते हुए अधिक बेहतर महसूस करते हैं. अश्विन की शिकायत के बारे में पूछे जाने पर कोहली ने इस स्पिनर का समर्थन किया.

गुणवत्ता से कभी समझौता नहीं

कोहली ने कहा कि मैं पूरी तरह से उनसे सहमत हूं. पांच ओवर में गेंद घिस जाती है ऐसा हमने पहले कभी नहीं देखा था. पहले जिस गेंद का उपयोग किया जाता था उसकी गुणवत्ता काफी अच्छी थी और मुझे नहीं पता कि अब इसमें गिरावट क्यों आयी है.

इसे भी पढ़ें : गुजरात हिंसा : मोदी के निशाने पर कांग्रेस,  कहा, बांटो और राज करो की नीति पर चलती रही है कांग्रेस

उन्होंने कहा कि ड्यूक गेंद अब भी अच्छी गुणवत्ता वाली होती है. कूकाबूरा भी अच्छी गुणवत्ता की होती हैं. कूकाबूरा की जो भी सीमाएं (सीम सपाट हो जाना) है लेकिन उसकी गुणवत्ता से कभी समझौता नहीं किया जाता है.

Related Articles

Back to top button