HazaribaghJharkhand

अंबा प्रसाद के नेतृत्व में होमगार्ड अभ्यर्थियों ने सीएम हेमंत सोरेन से की मुलाकात

Hazaribagh: होमगार्ड अभ्यर्थियों का एक प्रतिनिधिमंडल ने बड़कागांव की विधायक के नेतृत्व में मानसून सत्र के दौरान झारखंड विधानसभा में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात की. इस दौरान विधायक अंबा प्रसाद एवं नवनियुक्त होमगार्ड संघ हजारीबाग के अध्यक्ष रंकज सिंह एवं सचिव जीतू कुमार ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ज्ञापन सौंपा एवं नियुक्ति प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करने हेतु निवेदन किया. मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन ने बताया कि नियुक्ति प्रक्रिया समादेष्टा कार्यालय रांची से पूर्ण की जाएगी जिसका कार्य अंतिम चरण में है.

ज्ञात हो कि जिला समादेष्टा कार्यालय हजारीबाग की ओर से होमगार्ड बहाली के लिए विज्ञापन संख्या 1/19 के तहत हजारीबाग जिले में गृह रक्षक नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू की गई थी एवं काफी समय बीत जाने के बाद भी नियुक्ति प्रक्रिया पूरी नहीं होने के चलते होमगार्ड अभ्यर्थियों ने लगभग 118 दिन धरना प्रदर्शन भी किया था.

इसे भी पढे़ं:Monsoon Session: 3436 करोड़ का प्रथम अनुपूरक बजट ध्वनिमत से पारित, वित्त मंत्री ने कहा- सरकार पर नहीं पड़ेगा कोई वित्तीय भार

Sanjeevani

होमगार्ड अभ्यर्थियों के मामले को बड़कागांव की विधायक अंबा प्रसाद के द्वारा शुरू से ही पूर्ण कराने को लेकर कड़ा प्रयत्न किया गया है. उनके द्वारा झारखंड विधानसभा में प्रश्न भी किया गया बार-बार माननीय मुख्यमंत्री, मंत्री एवं संबंधित अधिकारियों पदाधिकारियों से लगातार इस मामले में संपर्क बनाई हुई है.

इस अवसर पर विधायक अंबा प्रसाद ने कहा कि होमगार्ड अभ्यर्थियों के साथ न्याय हो, उसके लिए शुरू से ही हर मोर्चे पर होमगार्ड अभ्यर्थियों के मामले को लेकर लगी हुई हूं.

इसे भी पढे़ं:Monsoon Session: सदन में छलका युवा विधायक शिल्पी का दर्द, बोली- सोचा कुछ सिखूंगी मगर यहां तो लज्जा आ रही है

विधानसभा में भी आवाज उठाया गया एवं तत्कालीन अधिकारियों पर मंत्री आलमगीर आलम ने कार्रवाई की बात भी कही है. मामले को लेकर माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन से पूर्व भी काफी बार मुलाकात किया एवं उनके संज्ञान में भी डाला गया है.

संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम भी इस मामले पर काफी संवेदनशील है और विधानसभा में मामला उठाने के बाद अधिकारी हरकत में आए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा है कि नियुक्ति प्रक्रिया अंतिम चरण में है, जल्द ही इस दिशा में अंतिम सकारात्मक निर्णय की उम्मीद है.

इसे भी पढे़ं:सदन में सरकारः 407 स्कूलों को स्थानीय लोगों ने घोषित किया उर्दू स्कूल, 509 स्कूलों में रविवार की बजाय शुक्रवार को अवकाश

Related Articles

Back to top button