BiharLead News

‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ के अंतर्गत बिहार के सर्वाधिक 15,729 प्रवासी मजदूरों ने दूसरे राज्यों में लिया राशन

राज्यसभा में सांसद सुशील कुमार मोदी के सवाल पर भारत सरकार ने दी जानकारी

Patna: राज्यसभा में शुक्रवार को केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने सांसद सुशील कुमार मोदी के एक सवाल के जवाब में बताया कि इस साल कोरोना की दूसरी लहर के दौरान पूरे देश में सर्वाधिक बिहार के 15,729 प्रवासी मजदूरों ने अपने गृह राज्य के बाहर ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ योजना के तहत अपने कोटे का राशन लिया.

उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र में रहने वाले 3,073, दिल्ली में 2,773, हरियाणा में 1,838, दादर व नगर हवेली और दमन व दीव में 1,577 तथा गुजरात में 1,428 प्रवासी बिहारी मजदूरों ने राशन का उठाव किया.

इस साल अप्रैल से जुलाई के बीच जब कोरोना की दूसरी लहर पीक पर थी, तब जुलाई महीने में दूसरे राज्यों में राशन का उठाव करने वाले बिहारी मजदूरों की संख्या अप्रैल की 3,249 की तुलना में करीब दोगुनी यानी 6,419 रही.

advt

इसे भी पढ़ें :JAC ने जारी किये 12वीं के तीनों संकायों के रिजल्ट, 90.71 स्टूडेंट्स पास

पश्चिम बंगाल, छतीसगढ़ और असम की सरकारों ने अभी अपने यहां ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ योजना को लागू नहीं किया है.

ज्ञातव्य है कि नरेंद्र मोदी सरकार ने देश में ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ योजना लागू की है, जिसके तहत किसी भी राज्य का राशन कार्डधारी किसी दूसरे राज्य में या अपने गृह राज्य में भी अपने मूल निवास से इतर कहीं से भी अपने कोटे के राशन का उठाव कर सकता है.

इसे भी पढ़ें :इंटर के सभी स्ट्रीम में छात्राएं शीर्ष पर, कॉमर्स में 92.95 प्रतिशत हुईं पास

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: