न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

संयुक्त राष्ट्र की चेतावनी, पर्यावरण नहीं सुधारा गया तो 2050 तक लाखों मारे जायेंगे

यदि चेतावनी नहीं मानी गयी, तो एशियाई शहरों व क्षेत्रों, मध्य पूर्व व अफ्रीका में सदी के मध्य तक लाखों लोगों की असमय मौत हो सकती है.

70

Nairobi  : संयुक्त राष्ट्र की बुधवार को प्रकाशित एक ऐतिहासिक रपट में दुनिया को बड़े पैमाने पर पर्यावरणीय सुरक्षा बढ़ाने की चेतावनी दी गयी है.  रपट के अनुसार यदि चेतावनी नहीं मानी गयी, तो एशियाई शहरों व क्षेत्रों, मध्य पूर्व व अफ्रीका में सदी के मध्य तक लाखों लोगों की असमय मौत हो सकती है.  बता दें कि पिछले पांच सालों में पर्यावरण की स्थिति पर पूरा किये गये सबसे व्यापक आकलन में धरती को होने वाली क्षति के बारे में चेतावनी जारी की गयी है. इसमें कहा गया है कि अगर जल्द कार्रवाई नहीं गयी  तो लोगों के स्वास्थ्य को खतरा बढ़ जायेगा.

इसे भी पढ़ेंःआतंकी अजहर की ढाल बने चीन से नाराज UNSC सदस्यः कहा- कोई और कदम उठाने को हो सकते हैं मजबूर

70 से ज्यादा देशों के 250 ने रिपोर्ट प्रस्तुत की है

खबरों के अनुसार 70 से ज्यादा देशों के 250 वैज्ञानिकों व विशेषज्ञों द्वारा यह रिपोर्ट प्रस्तुत की गयी है.  छठी ग्लोबल इनवायरमेंट आउटलुक रिपोर्ट खास है, क्योंकि यह सभी पर्यावरण मुद्दों के साथ-साथ स्वास्थ्य परिणामों व पर्यावरण समस्याओं से जुड़ी हुई है. हालांकि रिपोर्ट इस तथ्य को उजागर करती है कि दुनिया को विज्ञान, प्रौद्योगिकी व वित्त से ज्यादा सतत विकास के रास्ते पर जाने की जरूरत है. बता दें कि अभी भी जनता, व्यापार व राजनीतिक नेताओं का पर्याप्त समर्थन इसे नहीं मिल रहा है. अभी भी राजनेता पुराने उत्पादन व विकास के मॉडलों से जुड़े हुए हैं.

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण की कार्यवाहक कार्यकारी निदेश जोयेस मसूया ने आईएएनएस से कहा,  नवाचार प्रगति का बड़ा हिस्सा है,  हमने अबतक बहुत-सी पर्यावरण चुनौतियों का सामना किया है.  यह सभी तरीके से प्रदूषण से निपटने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगा.

इसे भी पढ़ेंःआतंकी अजहर मामले पर कांग्रेस का तंजः विफल विदेश नीति फिर उजागर, काम नहीं आयी हगप्लोमेसी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: