World

वियतनाम में टाइफून तूफान का कहर,  भारी तबाही, 35 की मौत, 50 से अधिक लापता

मारे जाने वाले लोगों में 12 मछुआरे भी शामिल हैं,  जिनकी नाव टाइफून के चलते 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवाओं से पलट गयी थी

Hanoi  : वियतनाम में टाइफून तूफान ने जमकर तबाही मचायी है. जैसी  कि खबर आयी है, तूफान के साथ भारी बारिश और भूस्खलन के कारण कई लोग मारे गये हैं.  जानकारी के अनुसार वियतनाम में पिछले 20 वर्ष में टकराने वाले सबसे शक्तिशाली तूफान टाइफून से लाखों लोग प्रभावित हुए हैं. गुरुवार को आया इस तूफान में अब तक 35 लोगों के मारे जाने और 50 से अधिक लोगों के लापता होने की खबर  है.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ें : Corona Update: देश में कम हुई संक्रमण की रफ्तार लेकिन दिल्ली बनी चिंता का सबब

 बचाव दल का  फोकस देश के मध्य क्षेत्र के तीन गांवों पर

बता दें कि लगातार हो रही भारी बारिश के चलते  लोगों को भारी परेशानी हो रही है.  तूफान में लापता हुए लोगों को बचाने के लिए बचावकर्मी लगे हुए हैं.  बचाव दल का पूरा फोकस देश के मध्य क्षेत्र के तीन गांवों पर है,  जहां भूस्खलन से कम से कम 19 लोगों की मौत हो गयी और 40 से अधिक अन्य लोगों के मलबे में दबे होने का आशंका है.

इसे भी पढ़ें : प्रधानमंत्री मोदी अहमदाबाद पहुंचे, पूर्व सीएम केशुभाई पटेल को दी श्रद्धांजलि

Samford

उप प्रधानमंत्री त्रिन्ह दीन्ह डंग ने भूस्खलन से प्रभावित इलाकों का दौरा किया

उप प्रधानमंत्री त्रिन्ह दीन्ह डंग ने भूस्खलन से प्रभावित इलाकों का दौरा किया. यहां सेना के जवान बुलडोजर से मलबे को हटाने के लिए काम कर रहे थे.  उप प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को मदद के लिए और अधिक सैनिकों को भेजने का आदेश दिया है.

उन्होंने कहा, मलबा हटाने के लिए मशीनें पहुंचने में काफी समय लगेगा, इससे बेहतर होगा कि बड़ी संख्या सैनिक उन स्थानों तक पहुंचकर लोगों के सुरक्षित स्थान तक पहुंचायें.

इसे भी पढ़ें :  डरना जरूरी है…कोरोना वायरस को छोड़िए…  दुनिया में मौजूद हैं 850,000 अज्ञात खतरनाक वायरस : रिपोर्ट

भूस्खलन के कारण सेना के जवान भी लापता

मारे जाने वाले लोगों में 12 मछुआरे भी शामिल हैं.  जिनकी नाव टाइफून तूफान के चलते 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवाओं से पलट गयी थी. 14 अन्य मछुआरे अब भी लापता हैं. वियतनाम कई सालों में सबसे भयंकर बाढ़ का सामना कर रहा है. यहां बाढ़ के कारण हुए भूस्खलन में सेना के बैरक भी जमींदोज हो गये हैं. भूस्खलन के कारण सेना के जवान भी लापता बताये गये है. 11 जवानों के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिली है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: