GarhwaJharkhand

छुट्टी मांगने पहुंचे सिपाही के साथ दो अधिकारियों ने की मारपीट, एसआई ने चार घंटे तक रस्सी से बांधकर पीटा

विज्ञापन

Garhwa. सिपाही और थाना प्रभारी के बीच मारपीट का मामला सामने आया है. दरअसल, मामला छुट्टी को लेकर है. यह आरोप सदर थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर लक्ष्मीकांत और सब इंस्पेक्टर स्वामी रंजन ओझा के ऊपर लगा है. इन दोनों के द्वारा सदर थाना के सिपाही रमेश उरांव के साथ मारपीट किया गया है. मारपीट में घायल सिपाही रमेश को अन्य साथी जवानों ने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है.

 

advt

 

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार पिटाई से घायल सिपाही रमेश ने बताया कि वह छुट्टी के लिए आवेदन पहले दिया था. रविवार को वह सुबह लगभग दस बजे थाना पहुंच कर थाना प्रभारी से छुट्टी देने की मांग की, तो थाना प्रभारी ने उसे बाहर बैठने के लिए कहा. थाना प्रभारी के आदेश के बाद वह बाहर बैठ गया. इस बीच लाइन से हवलदार उनका पुलिस लाइन के लिए कमान लेकर पहुंचे हवलदार को उन्होंने रुकने को कहा.

 

इसे भी पढ़ें- एफरेसिस मशीन से बढ़ेगी प्लाज्मा डोनेशन की संख्या, वेबपोर्टल से मिलेगी प्लाज्मा के उपलब्धता की जानकारी

adv

थाना प्रभारी कहीं बाहर जाने के निकले तो तो उसने दोबारा आग्रह करते हुए कहा कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है उसे अभी ड्यूटी नहीं दे, इसी बात को सुनते ही थाना प्रभारी ने गाली गलौज करते हुए मारपीट की. सिपाही ने आरोप लगाया कि थाना प्रभारी ने लात घुसे से पिटाई की.

उसके बाद उसे थाने में ही रहने को कहा दोपहर में जब वह खाना खाने जाने लगा तो सब इस्पेक्टर स्वामी रंजन ओझा ने उससे बाहर नहीं जाने को कहा जब वह कहा कि खाना खाकर आ रहा है. इसी बीच एसआई रंजन ओझा मारपीट करने लगे. इस दौरान थाना प्रभारी और स्वामी रंजन ओझा दोनों ने मिलकर उसको रस्सी से बांधकर मारपीट की.

चार घंटे तक उसे बांधकर थाना में रखा गया

सिपाही रमेश उरांव को लगभग चार घंटे तक उसे बांधकर थाना में रखा गया. हवलदार के आने के बाद उसका रस्सी खोला गया. मारपीट होने की सूचना मिलने के बाद पहुंचे पुलिस मेंस एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने उसे इलाज के लिए अस्पताल भेजा.

 

थाना प्रभारी लक्ष्मीकांत और सब इंस्पेक्टर स्वामी रंजन ओझा के हाथों पुलिस जवान की पिटाई के सूचना मिलने के बाद पहुंचे पुलिस मेस एसोसिएशन के अध्यक्ष रवि कुशवाहा, उपाध्यक्ष बादल पासवान, सचिव श्रीप्रकाश यादव संतोष कुमार और रंजीत राय ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि थाना प्रभारी ओर सब इंस्पेक्टर ने जिस तरह से सिपाही के साथ दुर्व्यवहार किया है वह सही नहीं है.

मारपीट की जांच शुरू

सदर थाने में मारपीट होने की सूचना मिलने के बाद मुख्यालय डीएसपी दिलीप खलखो मामले की जांच करने थाना पहुंचे. थाने पहुंचकर उन्होंने मामले की जानकारी ली. डीएसपी दिलीप खलखो थाना प्रभारी ओर सब इंस्पेक्टर सभी मामलों की जानकारी हासिल कर रहे हैं. पूरे मामले की जांच रिपोर्ट वरिष्ठ पदाधिकारी को दी जाएगी.

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button