न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्कूल जा रही दो बच्चियों को ट्रक ने रौंदा, मौके पर ही मौत 

118

Dhanbad : टुंडी में स्कूल जा रही दो बच्चियों की बुधवार को हुई मौत के साथ ही दस दिनों में सड़क दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 12 हो गयी है. मंगलवार की सड़क दुर्घटना में रेलकर्मी की मौत हुई थी. बुधवार को टुंडी के कोल्हर मोड़ के समीप स्कूल जा रही दो युवतियों को तेज रफ्तार से आ रहे ट्रक ने रौंद दिया. बच्चियों की मौत मौके पर ही हो गयी. ट्रक ने इस कदर रौंदा कि लाश क्षत विक्षत हो गयी.

घटना की सूचना  घरवालों की दी गई. सूचना मिलते ही रोते बिलखते परिजन पहुंचे और अपनी बच्ची के मृत शरीर पर दहाड़े मारकर रोने लगे, चीख-पुकार से पूरा इलाका सन्न रह गया. सूचना स्थानीय थाना को दी गई. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और जांच में जुट गई. दुर्घटना होने के बाद स्थानीय लोगों ने ट्रक का पीछा किया लेकिन वह भागने में सफल रहा. आपको बता दें कि सड़क दुर्घटना में 10 दिनों में अब तक 12 लोगों की मौत हो गयी है.

इसे भी पढ़ें – डॉ अजय ने कहा- आजसू व जेएमएम की तर्ज पर कांग्रेस करेगी ‘सरकार फेंको यात्रा’

10 दिन में 12 लोगों की सड़क दुर्घटना में हुई मौत

आपको बता दें कि 13 अक्टूबर को बरवाअड्डा के बिराजपुर  में ट्रैक्टर की चपेट में आने से अश्वनी तिवारी की मौत मौके पर ही हुई, 21 अक्टूबर को तेतुलिया में सड़क दुर्घटना हुई जिसमें 2 लोगों की मौत हुई. 24 अक्टूबर को गोधर में कोयला से लदा हाइवा की चपेट में आने से स्कूटी सवार केंदुआ निवासी  विनीत अग्रवाल की मौत हुई. 27 अक्टूबर को महुदा चंद्रपुरा रेल खंड भुरंगिया रेलवे क्रॉसिंग के पास वनांचल एक्सप्रेस की चपेट में आने से बीसीसीएल कर्मी राजकुमार नोनिया की जान गयी.

इसी दिन करकेंद में रात 11  बजे सड़क पार करने के दौरान चार चक्के की वाहन की चपेट में आने से रोहन कुमार गंभीर रूप से घायल हुआ. बलियापुर मोड़ पर ट्रक की चपेट में आने से कूरियर कंपनी में  काम करने वाले विनय कुमार की मौत हुई. 28 अक्टूबर को एनएच 2 गोविंदपुर में सड़क हादसे में होरो मरांडी, हीरालाल सोरेन, शंकु वासुकी की मौत हुई. उसी दिन निरसा में भी ट्रक की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हुई थी. 29 अक्टूबर को जोड़ा फाटक रोडवेज पर ओवरटेक के दौरान ऋषभ गहलोत गंभीर रूप से घायल हो गए. 30 अक्टूबर को मेमको मोड़ स्थित कमल कटेसरिया स्कूल के समीप रेलवे कर्मचारी धर्मेंद्र कुमार जय मां तारा बस की चपेट में जाने से घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: