JharkhandKoderma

कोडरमा में माहुरी वैश्य महामंडल का दो दिवसीय अधिवेशन शुरू

Koderma: माहुरी वैश्य महामंडल गिरीडीह का 109वां वार्षिक अधिवेशन सोमवार को बाईपास रोड स्थित शिव वाटिका में प्रारंभ हुआ. दो दिवसीय अधिवेशन का शुभारंभ सोमवार को सर्वप्रथम समाज के वरिष्ठ सदस्य प्रभात भदानी ने ध्वजारोहण कर किया. इसके उपरांत सिद्धिदात्री कुलदेवी मां मथुरासिनी की पूजा पंडित अखिलेश्वर पांडेय ने कराई. पूजा में मुख्य यजमान के रूप में गोपाल भदानी, कंचन भदानी व विजय कुमार, सरिता विजय संयुक्त रूप से शामिल हुए. पूजनोपरांत महामंडल के कार्यकारणी की बैठक हुई. बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय अध्यक्ष सुबोध प्रकाश ने किया जबकि संचालन महामंत्री उमा शंकर चरण पहाड़ी ने किया. बैठक के दौरान निर्णय लिया गया कि मंडलो के विस्तार व युवा पीढी की शिक्षा, नौकरी व उच्च पद पर आसीन युवाओ को समानित कर समाज के मुख्यधारा में जोड़ने का काम कमिटी बना कर किया जाएगा.

Advt

उन्होंने कहा कि संगठन एकता से बढ़ता है और सभी लोगों को एकजुट होकर समग्र रूप से समाज के उन्नति के बारे में सोचना चाहिए. उपाध्यक्ष रवि कपसीमे ने कहा कि प्रत्येक समाज अपने सदस्यों में अपनी संस्कृति का संक्रमण शिक्षा के द्वारा ही करता है.

इसे भी पढ़ें:बिहार विधान परिषद का चुनाव संपन्न, 97.84% हुई वोटिंग

इस प्रकार शिक्षा किसी समाज की संस्कृति का संरक्षण करती है. जब मनुष्य शिक्षित हो जाता है तो वह अपने अनुभव के आधार पर अपनी संस्कृति में परिवर्तन करता है. मौके पर माता का दरबार भव्य रूप से सजाया गया था.

मौके पर केंद्रीय उपाध्यक्ष प्रकाश सेठ, राजेन्द्र तर्वे, राजेश गुप्ता, उमाशंकर चरण पहाड़ी, ब्रजकिशोर गुप्ता, अनिल गुप्ता, रश्मि गुप्ता, शंकर गुप्ता, यदुनंदन राम, प्रदीप कुमार, सुनील कुमार, पूनम गुप्ता, अजित भदानी, संजय कंधवे, केंद्रीय महिला समिति अध्यक्ष पूनम प्रकाश, रेणु कुमारी, अशोक गुप्ता, मनीष गुप्ता, ओमप्रकाश गुप्ता, केंद्रीय नवयुवक समिति अध्यक्ष संजीत तर्वे, सचिव हरिमोहन कंदवे, राजेश भदानी आदि शामिल थे.

इसे भी पढ़ें:IRCTC के साथ 37,600 में करें केदारनाथ और बद्रीनाथ की यात्रा

अधिवेशन में पहली बार दिखी समाज के पूर्वजों की चित्र प्रदर्शनी

अधिवेशन में पहली बार आयोजन समिति द्वारा पूर्वजों का चित्र प्रदर्शनी प्रदर्शित किया गया. इसमें समाज के स्थापना कालखंड में समाज के सर्वांगीण विकास एवं समाज का संगठन में अग्रणीय भूमिका निभाने वाले मनीषियों की चित्र झांकी प्रस्तुत कर श्रधांजलि अर्पित की गई. प्रदर्शनी का विमोचन महामंडल अध्यक्ष सुबोध प्रकाश एवं अशोक आर्या द्वारा संयुक्त रूप से किया गया.

मौके पर उन्होंने कहा कि जिन पूर्वजो और वंशजों से हमारे समाज और संगठन का निर्माण हुआ है. उनके बारे में समाज के हर लोग विस्तार से जान सके इसी मद्देनजर चित्र प्रदर्शनी का आयोजन किया गया है.

प्रदर्शनी में पंडित गंगा प्रसाद चतुर्वेदी, पंडित कारू राम अठघरा, हरखु राम सेठ, गया राम भदानी, टेकनारायण राम भदानी, छट्ठू राम भदानी, होरिल राम भदानी, दर्शन राम भदानी, झरि राम भदानी, उमाचरण लाल तर्वे, रघुनंदन राम एकघरा, कमलापति राम तर्वे, सदानंद प्रसाद भदानी, गौरी शंकर भदानी, प्रभु दयाल गुप्ता, गोपी चंद बड़गवे, रामचन्द राम भदानी, गुरुचरण राम बड़गवे, नारायण राम बरहपुरिया, जनकदेव आर्य, काशी राम कपसीमे, भगवती प्रसाद लोहानी की तस्वीर लगाइ गई है. उक्त जानकारी प्रदर्शनी के संयोजक आशुतोष भदानी ने दी.

इसे भी पढ़ें:सदर अस्पताल का हाल बेहाल, समय पर नहीं पहुंचते डॉक्टर, मरीजों को घंटों करना पड़ रहा इंतजार

शोभायात्रा आज, सांस्कृतिक कार्यक्रम में दिखेगी प्रतिभा

दो दिवसीय अधिवेशन के दूसरे दिन मंगलवार को स्थानीय माहुरी भवन से शिव वाटिका तक भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी. इसके उपरांत नवयुवक सभा का आयोजन होगा. तिलैया में 27 वर्षों के बाद महामंडल का अधोवेशन आयोजित हुआ है.

कार्यक्रम में वरिष्ट सदस्य बनवाली राम भदानी, शालिनी वैश्यकियार, स्वागत अध्यक्ष विजय कुमार, सचिव राजेश कपसीमे, कोषाध्यक्ष सुनील कुमार ब्रहपुरिया, संयोजक मुरारी बड़गवे, सुनीता सेठ, मंडल अध्यक्ष मुन्ना भदानी, युवा प्रभारी प्रतीक बड़गवे, विकास वैश्यकियार, गौतम वैश्यकियार, विजय कपसिमें, सुनील भदानी, उदय बडगवे, मीडिया प्रभारी अभिषेक रंजन, साहिल भदानी, रितेश लोहानी, विशाल भदानी, सुजीत लोहानी, अरुण सेठ, दयानंद पवनचौदह, संजय तर्वे, विजय वैश्यकियार, पप्पू भदानी, रजत बड़गवे, दिलीप ब्रहपुरिया, राजेश सेठ, अरविंद एकघरा आदि शामिल हुए.

इसे भी पढ़ें:गोरखनाथ मंदिर के गेट पर अल्लाह हू अकबर का नारा लगाते हुए पुलिसवालों पर हमला करनेवाला मुर्तजा है आईआईटियन, पुलिस जुटी जांच में

Advt

Related Articles

Back to top button