Lead NewsNationalTOP SLIDER

इंजन सहित दो डिब्बे जलकर हुए राख, लोगों ने दिखाई एकता की ताकत, धक्का देकर चला दी ट्रेन, देखें VIDEO

सहारनपुर से दिल्ली जा रही पैसेंजर ट्रेन में मेरठ के दौराला स्टेशन पर आग लग गई

Lucknow : उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से दिल्ली जा रही पैसेंजर ट्रेन में शनिवार की सुबह मेरठ के दौराला स्टेशन पर अचानक आग लग गई. बताया जा रहा है कि ट्रेन का ब्रेक जाम होने के चलते यह दुर्घटना हुई. आग की तेज लपटों से ट्रेन के इंजन सहित दो डिब्बे जलकर राख हो गए.

इसे भी पढ़ें : चेड़ी व मनातू में जमीन की खरीद-बिक्री पर लगी रोक, जानें क्यों…

शोर मचाते हुए नीचे उतरकर प्लेटफार्म पर दौड़ यात्री

Catalyst IAS
ram janam hospital

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार ट्रेन जैसे ही दौराला स्टेशन पर पहुंची उसके इंजन में नीचे से तेज आग लग गई. इंजन के पास के डिब्बों में सवार यात्रियों को पैर के नीचे से धुआं और चिंगारी निकलती दिखी तो वे शोर मचाते हुए नीचे उतरकर प्लेटफार्म पर दौड़ पड़े. उन्होंने अन्य यात्रियों और ड्राइवर को आगाह किया.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

ट्रेन में आग की सूचना मिलते ही पीछे के डिब्बों में सवार यात्रियों के बीच भी हड़कंप मच गया. वे आनन-फानन में ट्रेन से उतर गए और दूसरे यात्रियों को बताने के लिए शोर मचाते हुए प्लेटफार्म पर दौड़ने लगे.

 

इसे भी पढ़ें : ‘ग्रामीणों की आस मनरेगा से विकास’ अभियान के दौरान 3.24 करोड़ मानव दिवस का सृजन

दमकल की गाड़ियां पहुंचने से पहले ही दोनों डिब्बे ऱाख

उधर, देखते ही देखते इंजन में आग ने विकराल रूप ले लिया. आग की ऊंची-ऊंची लपटें उठने लगीं. आग पीछे के डिब्बों में फैलने लगी. रेलवे प्रशासन जब तक दमकल गाड़ियां मंगा पाता तब तक इंजन सहित दो डिब्बे आग की चपेट में आ चुके थे. आग इतनी तेज थी कि थोड़ी ही देर में दोनों डिब्बे जलकर राख हो गए. मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ियों से आग बुझाने की कोशिश की जाने लगी. इस बीच कुछ यात्रियों की मदद से ट्रेन के अन्य डिब्बों को काटकर अलग किया गया.

देवबंद से ही आ रही थी आवाज और दुर्गन्ध

ट्रेन से उतरकर अपनी जान बचाने वाले यात्रियों ने बताया कि देवबंद से ही उन्हें कुछ आवाज सुनाई दे रही थी. दुर्गंध भी महसूस हो रही थी. लेकिन तब किसी को इसकी वजह समझ नहीं आई. फिर अचानक सीट के नीचे से धुआं निकलना शुरू हो गया.

कुछ यात्रियों का कहना है कि उन्होंने इंजन में मौजूद ड्राइवर तक धुआं निकलने की बात पहुंचाने के लिए काफी शोर मचाया लेकिन बात उन तक पहुंच नहीं सकी. मटौर गांव पहुंचते-पहुंचते धुआं काफी बढ़ गया. इससे यात्रियों में अफरातफरी मच गई. दौराला स्टेशन पर ट्रेन रुकते ही यात्री नीचे उतरकर चिल्लाते हुए दौड़ पड़े.

इसे भी पढ़ें :   U-14 रग्बी राष्ट्रीय चैंपियनशिप: प्री क्वार्टर फाइनल में पहुंची झारखंड की टीम

Related Articles

Back to top button