Bihar

लखीसराय में STF के हत्थे चढ़े दो आर्म्स सप्लायर, 18 अर्द्धनिर्मित पिस्टल बरामद

Lakhisrai : बिहार में अवैध तरीके से हथियारों के बनाने और उसके तस्करी का धंधा अभी भी जोर-शोर के साथ चल रहा है. इस बात को बिहार STF की कार्रवाई पुख्ता कर रही है. गुरुवार की रात STF की एक स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) ने लखीसराय जिले में दबिश दी. कार्रवाई करते हुए कवैया इलाके से 2 हथियार तस्कर को पकड़ा. इनके पास से 18 अधूरे बने हुए पिस्टल बरामद किए गए.

इसे भी पढ़ें : चक्रधरपुर संजय नदी से बस एजेंट बंटी का शव बरामद

STF की इस कार्रवाई में खास बात यह है कि अवैध हथियारों के इस खेप को सामान ढोने वाली एक पिकअप वैन (BR-08G/5867) में छिपाकर ले जाया जा रहा था. हथियारों को कुछ सामान के अंदर रखा गया था. तस्कर इस खेप को मुंगेर से लेकर चले थे. लखीसराय के रास्ते इस खेप को किसी जगह पर पहुंचाना था. लेकिन, इस बारे में STF की टीम को एक स्पेशल इनपुट मिल गई. यहां तक कि उन्हें पिकअप वैन का नंबर भी मिल गया था.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसके बाद लखीसराय के कवैया में लोकल थाना की पुलिस के साथ मिलकर जाल बिछाया. फिर पिकअप वैन को पकड़ लिया. अपने कब्जे में लेकर वैन की तलाशी ली. तब जाकर अधूरे बने पिस्टल की खेप बरामद हुई. जिन दो तस्करों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें एक का नाम मो. जहीर है, जबकि दूसरे का नाम ऐजाज आलम है. ये दोनों ही मुंगेर में कोतवाली थाना के तहत पुराबसराय कमेला रोड इलाके के रहने वाले हैं.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

STF के अधिकारी के अनुसार, दोनों में मो. जहीर कुख्यात हथियार तस्कर है. लंबे समय से वो हथियारों की तस्करी करता आ रहा है. कवैया थाना में रखकर दोनों से पूछताछ की जा रही है. इनकी हिस्ट्री, कॉन्टैक्ट्स को खंगाला जा रहा है. इस खेप की सप्लाई कहां होनी थी? इसका भी पता लगाया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand: 17 विभागों की नियुक्ति नियमावलियों में नहीं हुआ बदलाव,अब मिला सिर्फ दस दिन का समय

Related Articles

Back to top button