न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दो अमरनाथ श्रद्धालुओं का निधन, 14 पहुंची मरने वालों की संख्या

454

Srinagar : दक्षिण कश्मीर के हिमालय स्थित अमरनाथ गुफा के दर्शन के लिए जा रहे दो श्रद्धालुओं की प्राकृतिक कारणों से मौत हो गई. इसके साथ ही इस साल यात्रा के दौरान मरने वाले लोगों की संख्या 14 हो गई है. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के गांदरबल जिले में अमरनाथ यात्रा बालटाल आधार शिविर पर हैदराबाद की निवासी लक्ष्मी बाई (54) की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई. उन्होंने बताया कि उनका शव आधार शिविर के अस्पताल में है. वहीं अधिकारी ने बताया कि एक अन्य श्रद्धालु आंध्र प्रदेश के निवासी रविंद्र नाथ (72) की तबीयत खराब होने के बाद उन्हें सौररा के एसकेआईएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां उनकी मृत्यु हो गयी.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसदों ने केंद्रीय ऊर्जा मंत्री से कहा : झारखंड में नहीं मिलती 10 घंटे भी बिजली, केंद्रीय मंत्री ने कहा- CM से करूंगा बात

तीन जुलाई को भुस्खलन में हुई थी पांच लोगों की मौत

जम्मू कश्मीर के गांदेरबल जिले में अमरनाथ यात्रा के बालटाल मार्ग पर तीन जुलाई की रात भूस्खलन में पांच लोगों की मौत हो गयी थी और तीन अन्य घायल हो गये थे. बालटाल मार्ग पर रेलपत्री और बरारीमार्ग के बीच भूस्खलन में चार पुरूषों और एक महिला सहित पांच लोगों की मौत हो गई थी.

इसे भी पढ़ें- यशवंत सिन्हा का ट्वीट- पहले मैं लायक बेटे का नालायक बाप था, अब रोल बदल गया है

छह लोगों की अलग-अलग कारणों से हुई मौत

गौरतलब है कि इससे पहले कश्मीर में पवित्र अमरनाथ गुफा के लिये जाने के दौरान तीन श्रद्धालुओं की अलग – अलग कारणों से मौत हो गयी थी. आंध्र प्रदेश में फिवालायम की रहने वाली थोटा राधनम नामक 75 वर्षीय महिला की बालताल आधार शिविर की एक सामुदायिक रसोई में मौत हो गयी थी. आशंका है कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा था. आंध्र प्रदेश के अनंतपोरा के रहने वाले राधा कृष्ण शास्त्री (65) की भी गुफा के निकट संगम में दिल का दौरा पड़ने से मौत हुई. उत्तराखंड के रहने वाले पुष्कर जोशी सोमवार को बराड़ीमार्ग एवं रेलपथरी के बीच पहाड़ से पत्थरों के गिरने के चलते घायल हो गये थे. जिन्होंने बाद में अस्पताल में दम तोड़ दिया था. इससे पहले बीएसएफ के एक अधिकारी, एक यात्रा स्वयंसेवी और एक पालकी ढोने वाले की मौत हो चुकी थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: