Crime NewsGiridihJharkhand

साहू पेट्रोल पंप में लूटपाट करने के दो आरोपी गिरफ्तार, तीसरा फरार

  • पुलिस ने बताया- बिहार के हैं गिरफ्तार आरोपी, अंतरराज्यीय गिरोह के हैं सदस्य

Giridih : देवरी पुलिस ने पेट्रोल पंप लूटनेवाले अंतरराज्यीय गिरोह के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. हालांकि, एक अन्य आरोपी पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल रहा. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गुरुवार की देर रात गरिफ्तार किया, लेकिन मीडिया को इसकी जानकारी शुक्रवार को दी. प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसपी अमित रेणु, पुलिस निरीक्षक विनय राम और परमेशवर लियांगी मौजूद थे.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ेः JREDA के तीन पूर्व अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोपों की ACB करेगा जांच, मुख्यमंत्री ने दी इजाजत

देसी पिस्तौल, चार जिंदा कारतूस, बाइक और मोबाइल बरामद

एसपी अमित रेणु ने बताया कि जिन दो आरोपियों को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है, उनमें बिहार के मुजफ्फरपुर के सकुड़ा थाना क्षेत्र के लक्ष्मीपुर गांव निवासी सुशील पासवान और जमुई जिला के झाझा थाना क्षेत्र के चाई गांव निवासी सुनील कुमार दास शामिल हैं. पुलिस ने इनके पास से लूटी गयी बाइक के अलावा एक देसी पिस्तौल के साथ चार जिंदा कारतूस और देवरी के साहू पेट्रोल पंप के कर्मी से लूटे गये मोबाइल बरामद किये हैं.

इसे भी पढ़ेः कांके डैम बचाओ आंदोलन : मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने मना लिया आंदोलनकारियों को, खत्म हुआ आंदोलन

Samford

तीसरे आरोपी की भी जल्द होगी गिरफ्तारी : एसपी

प्रेस कॉन्फ्रेंस के क्रम में एसपी ने यह भी बताया कि गिरफ्तार दोनों आरोपी अंतरराज्यीय गिरोह से जुड़े हुए हैं. इनका तीसरा सहयोगी भागने में सफल रहा, जिसकी जल्द गिरफ्तारी का दावा प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया गया. एसपी ने बताया कि देवरी के चतरो के जलखरियोडीह स्थित साहू पेट्रोल पंप में 22 अक्टूबर को इसी गिरोह के तीनों सदस्य 50 हजार रुपये नकद लूटकर फरार हो गये थे. इसके बाद एसआईटी का गठन किया गया था.

इसे भी पढ़ेः DGP बोले- छह महीने में जामताड़ा-देवघर से साइबर अपराध का कर देंगे सफाया

सीसीटीवी फुटेज से हुई आरोपियों की शिनाख्त

एसआईटी टीम ने देवरी के कई क्षेत्रों में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला. फुटेज से ही तीनों आरोपियों की शिनाख्त की गयी. वैसे इन आरोपियों की गिरफ्तारी में स्पाई और टेक्निकल टीम के सहयोग का जिक्र भी एसपी ने करते हुए बताया कि गुरुवार की रात एसआईटी टीम में शामिल पुलिस पदाधिकारियों को गुप्त सूचना मिली. इसी सूचना के आधार पर देवरी के खडकड़िया पुल के पास सादे लिबास में पुलिसकर्मियों को तैनात कर इन दोनों आरोपियों को घेराबंदी कर दबोचा गया, हालांकि इनका तीसरा साथी फरार होने में सफल रहा.

इसे भी पढ़ेः अनशन पर बैठे पंचायत सचिव अभ्यर्थियों ने समाप्त किया आंदोलन

‘सिर्फ पेट्रोल पंपों को ही लूटते हैं’

एसपी के अनुसार गिरफ्तार दोनों आरोपियों के खिलाफ गिरिडीह के देवरी थाना में लूट के दो केस दर्ज हैं, तो पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर के अलावा धनबाद के चिरकुंडा और निरसा थाना में भी केस दर्ज हैं. उन्होने बताया कि इन आरोपियों का कार्य क्षेत्र पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर, अंडाल, चिरकुंडा और गिरिडीह समेत कई जिलों में है. पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया है कि तीनों मिलकर सिर्फ पेट्रोल पंपों में लूट की घटना को अंजाम देते हैं.

इसे भी पढ़ेः फादर स्टेन की रिहाई की मांग को लेकर सामाजिक कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: