World

अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक अकाउंट को रीसेट करेगा ट्विटर, हट जाएंगे सारे फॉलोअर्स

New delhi: ट्विटर इस्तेमाल करने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए यह सबसे बुरे सपनों में से एक हो सकता है कि वह सुबह उठे और उसका एक भी फॉलोअर ना हो. लेकिन बुधवार को अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक अकाउंट के साथ यह असल में होने वाला है. ट्विटर ने देश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही राष्ट्रपति के आधिकारिक अकाउंट को रीसेट करने की योजना बनाई है.इसके बाद से इस अकाउंट के सारे फॉलोअर्स हट जाएंगे.

रीसेट करने के बाद ट्विटर अकाउंट पोट्स को प्रेसिडेंट ऑफ द यूनाइटेड स्टेट( पोट्स45) यानी अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के नाम से संग्रहित (अर्काइव्ह) कर दिया जाएगा. इससे पहले पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकल के अकाउंट को भी पोट्स-44 के नाम से संग्रहित किया गया था.

इसे भी पढ़ें- तांडव वेब सीरीज मामले में रांची में भी दर्ज हुई प्राथमिकी

ट्वीटर के फैसले से खुश नहीं है बाइडन दल

ट्रंप कार्यकाल के इस अकाउंट के वे फॉलोअर्स जो नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन और नवनिर्वाचित उप राष्ट्रपति कमला हैरिस जैसे प्रासंगिक अकांउट्स को फॉलो करते हैं, उन्हें नए अकाउंट को फॉलो करने का सुझाव (नोटिफिकेशन) दिया जाएगा. बता दें कि बाइडन का दल इससे खुश नहीं है. नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के ‘डिजिटल’ मामलों के निदेशक रॉब फैलेहर्टी ने पिछले सप्ताह ट्वीट किया था कि फॉलोअर्स को रीसेट करने की योजना पूरी तरह से अपर्याप्त है.

इसे भी पढ़ें- किसान आंदोलन : केन्द्र सरकार ने प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली के खिलाफ दाखिल याचिका वापस ली

ट्विटर ने दिये ये तर्क

ट्विटर का कहना है कि रीसेट करने से लोगों को नये अकाउंट को फॉलो करने ना करने का विकल्प मिलता है.
गौरतलब है कि ट्विटर ट्रंप के आपत्तिजनक और भ्रामक ट्वीट की वजह से उनके निजी रियलडोनाल्डट्रंप अकाउंट पर हमेशा के लिए प्रतिबंध लगा चुका है. जो बाइडन 20 जनवरी को अमेरिका के राष्ट्रपति पद का कार्यभार संभालेंगे और उन्हें नया पोट्स अकाउंट मिलेगा. इसके साथ ही ट्रंप कार्यकाल से जुड़े ‘पोट्स’ और ‘फोट्स’ (अमेरिका की प्रथम महिला) जैसे अन्य आधिकारिक अकाउंट को संग्रहित कर दिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें-  फार्मेसी कोर्स कराने वाले 72 संस्थानों में केवल दो को ही फार्मेसी काउंसिल की मान्यता

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: