न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आतंक का पर्याय पीएलएफआई के एरिया कमांडर अखिलेश गोप समेत 12 उग्रवादी गिरफ्तार

177

Ranchi : रांची और खूंटी जिले के पुलिस ने विधानसभा चुनाव से पहले संयुक्त कार्रवाई करते हुए रांची और खूंटी जिला के बॉर्डर एरिया में आतंक का पर्याय बने पीएलएफआई के एरिया कमांडर अखिलेश गोप समेत पीएलएफआई उग्रवादी संगठन के 12 उग्रवादियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार हुए उग्रवादियों में पीएलएफPLFI के एरिया कमांडर और एक लाख इनामी अखिलेश गोप, धरम कुमार महतो, उत्तम महतो, बिरसा तिर्की, संग्राम तिर्की, भांकर महतो, पवन महतो, राजकुमार महतो और संदीप धान हैं, गिरफ्तारी रांची के नगड़ी थाना क्षेत्र के साहेर गांव से हुई. इसके अलावा यीशु मुंडा, अमित धान, विनोद सांगा उर्फ झबलू और सोमा कच्छप की गिरफ्तारी खूंटी जिला के कर्रा थाना क्षेत्र के मसमानो गांव से हुई. पुलिस ने गिरफ्तार हुए अपराधियों के पास से 2 पिस्टल, 2 देसी कट्टा,19 जिंदा कारतूस,पीएलएफआई का पर्चा, स्कॉर्पियो और स्विफ्ट डिजायर कार बरामद किये.

रांची और खूंटी जिले के बॉर्डर एरिया से पीएलएफआई दस्ता का हो गया सफाया

रांची के तुपुदाना ,धुर्वा, नगड़ी थाना क्षेत्र एवं रिंग रोड क्षेत्र तथा खूंटी जिला के कर्रा और खूंटी थाना क्षेत्र.सक्रिय पीएलएफआई के उग्रवादियों के पूरे दस्ता का सफाया दोनों जिला पुलिस की संयुक्त ने कार्रवाई करते हुए कर दिया. रांची रेंज के डीआईजी अमोल होमकर ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर खूंटी से पांच और रांची से 9 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है.

Sport House
Related Posts

#TSP के तहत क्या होना चाहिए और क्या नहीं, झारखंड में इस पर कोई नियम नहीं

ट्राइबल सब प्लान पर राज्य सरकार की पहली कार्यशाला

खूंटी में हत्या की घटना अंजाम देने की राजेश एकत्रित हुए थे सभी उग्रवादी

पीएलएफआई के एरिया कमांडर अखिलेश को और उसके सहयोगी उग्रवादी नगड़ी और कर्रा थाना के सीमावर्ती क्षेत्र में एक व्यक्ति की हत्या की घटना का अंजाम देने के लिए एकत्रित हुए थे, इसके अलावा कर्रा थाना क्षेत्र में पुलिया का काम में भी रंगदारी मांगने की योजना थी. इससे पहले ही रांची और खूंटी की पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए रांची के नगड़ी से 9 और खूंटी के कर्रा थाना क्षेत्र से चार पीएलएफआई उग्रवादी को गिरफ्तार कर लिया. बता दें पीएलएफआई के इस दस्ते के द्वारा अपराधिक घटनाओं का अंजाम देकर मतदान भंग करने एवं चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास किया जाना था.

अखिलेश गोप बाबू खान और संवेदक के कर्मियों की हत्या सहित कई मामले में संलिप्तता स्वीकार की

गिरफ्तार हुए पीएलएफआई के एरिया कमांडर अखिलेश गोप के द्वारा रांची जिला के तुपुदाना, धुर्वा , नगड़ी थाना क्षेत्र एवं रिंग रोड क्षेत्र तथा खूंटी जिला के कर्रा और खूंटी थाना क्षेत्र में हत्या, रंगदारी और आगजनी जैसे 25 से ज्यादा घटनाओं का अंजाम दिया गया है. कमांडर अखिलेश ने वर्ष 2016 में कर्रा थाना क्षेत्र दशरथ साहू हत्याकांड, अनिल परदिया व नंदकिशोर महतो हत्याकांड और रांची के तुपुदाना में जाकिर अंसारी एवं उसके सहयोगियों की हत्या. वर्ष 2018 में नगड़ी थाना क्षेत्र में बाबू खान हत्याकांड और चेटे गांव के रेलवे साइडिंग कार्य में लगे संवेदक के कर्मियों की हत्या एवं वर्ष 2019 में तुपुदाना क्षेत्र के बंडा गांव में ट्रैक्टर में आग लगाने जैसी प्रमुख घटनाओं का अंजाम देने में अपनी एवं अपने दस्ते सदस्यों की संलिप्तता स्वीकार की है.

Mayfair 2-1-2020
SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like