1st LeadBokaroJharkhandRanchi

BIG NEWS : TVNL में फिर चहेतों को उपकृत करने की तैयारी, आंतरिक इंटरव्यू में अयोग्य लोगों को किया शामिल, कोविड काल में भी हुआ था खेल

एलडीए के रोस्टर में SC की 4 सीटें मगर नियुक्ति के बाद 2 सीटें हो जायेंगी खत्म, ST कोटे में हैं 9 सीटें लेकिन कार्यरत हैं 15 लोग

AKSHAY KUMAR JHA

Ranchi  : झारखंड सरकार के उपक्रम तेनुघाट विद्युत निगम लि. और तेनुघाट थर्मल पावर स्टेशन में फिर एक बार पिछले दरवाजे से अपने चहेते लोगों को उपकृत करने की तैयारी है. 19 से 20 सितंबर तक प्रमोशन से भरे जाने वाले कुल 15 पदों के 26 रिक्त स्थानों के लिए साक्षात्कार लिये गये. जानकारी के अनुसार यह साक्षात्कार महज औपचारिकता है. जिन लोगों को प्रमोशन देकर उपकृत किया जाना है, उनके नाम पहले से तय किये जा चुके हैं. सेटिंग का खेल ऐसा है कि वैसे कर्मचारियों को भी इंटरव्यू में शामिल कर लिया गया है, जो प्रोन्नति की अर्हता को पूरा ही नहीं करते. 2017 के नवंबर माह में टीवीएनएल ज्वाइन करनेवाले कई कर्मचारियों को इंटरव्यू में शामिल किया गया, जबकि अब तक न तो उनकी सर्विस कंफर्म हुई है, न उनकी नौकरी के पांच साल पूरे हुए हैं. यही नहीं, उनकी नियुक्ति को लेकर झारखंड हाईकोर्ट में मामला भी लंबित है. बता दें कि टीवीएनएल में कोरोना काल में भी इसी तरह कुछ चहेते लोगों को नियम विरुद्ध तरीके से प्रमोशन और वेतन वृद्धि दी गयी थी. बाद में मामले का खुलासा होने पर काफी हंगामा हुआ था और तत्कालीन प्रबंध निदेशक एके सिन्हा को इस्तीफा देना पड़ा था.

19 और 20 सितंबर को ललपनिया में चला इंटरव्यू
तेनुघाट थर्मल पावर स्टेशन (टीटीपीएस), ललपनिया के उप कार्मिक निदेशक के हस्ताक्षर से जारी से जारी सूचना के अनुसार प्रोन्नति/नियुक्ति के लिए आंतरिक अंतर्वीक्षा (Interview) के लिए टीटीपीएस ललपनिया के इच्छुक चतुर्थवर्गीय या उससे ऊपर के पद पर कार्यरत कर्मचारी (जिसकी प्रोन्नति वर्षों से लंबित है) सभी शैक्षणिक प्रमाण पत्र एवं अनुभव प्रमाण पत्र के साथ निर्धारित तिथि एवं स्थान पर आंतरिक अंतर्वीक्षा के लिए उपस्थित होंगे. 19 और 20 सितंबर को दो पालियों में टीटीपीएस के प्रशिक्षण कक्ष में दो पालियों सुबह 11.00 बजे से दोपहर 2.00 बजे तक तथा संध्या 4.00 बजे से 6.00 बजे तक यह इंटरव्यू लिया गया.

योग्यता नहीं रहने के बावजूद शामिल हुए कर्मचारी
 टीवीएनएल के रांची मुख्यालय और टीटीपीएस ललपनिया के कई ऐसे कर्मचारियों ने इंटरव्यू दिया, जिनके पास आवश्यक योग्यता और अनुभव है ही नहीं. मजे की बात यह है कि ऐसे कर्मचारियों का इंटरव्यू लिया भी गया. मसलन 2017 के नवंबर माह में एलडीए, कंप्यूटर ऑपरेटर -1 और कंप्यूटर ऑपरेटर -2 के पदों पर नियुक्ति हुई थी. इनमें से कई कंप्यूटर ऑपरेटर प्रमोशन के लिए इंटरव्यू में शामिल हुए, जबकि उनकी नियुक्ति के न तो पांच वर्ष पूरे हुए हैं और न ही उनकी सेवा नियमित हुई है. उनकी नियुक्ति को चुनौती देनेवाली एक याचिका झारखंड उच्च न्यायालय में लंबित भी है. ऐसी हालत में कैसे बोर्ड ने उनका इंटरव्यू लिया, यह भी एक सवाल है.

एलडीए में अपने की रोस्टर की ऐसीतैसी की TTPS ने
यही नहीं, टीटीपीएस के के उप कार्मिक निदेशक ने पत्र के साथ जो रोस्टर जारी किया है, उससे पता चलता है कि यहां नियुक्तियों में कैसी धांधली होती है. रोस्टर के अनुसार टीटीपीएस में एलडीए यानी निम्नवर्गीय सहायक के कुल 36 स्वीकृत पद हैं. इनमें अनारक्षित कोटि के 23, अनुसूचित जनजाति के लिए 9 और अनुसूचित जाति के लिए 4 सीटें आरक्षित हैं. रोस्टर के अनुसार वर्तमान में एलडीए के पद पर अनारक्षित कोटि के 16, अनुसूचित जनजाति के 15 और अनुसूचित जाति के दो पद भरे हुए हैं. यानी कुल 36 स्वीकृत पदों में से 33 पद भरे हुए हैं. अभी विभाग ने तीन अनारक्षित पदों के लिए रिक्ति निकाली है. इन पदों से भर जाने के बाद सभी 36 पद भर दिये जायेंगे. यानी तब टीवीएनएल में एलडीए के अनारक्षित कोटि के 23 में से 19, एसटी के 9 स्वीकृत पदों के मुकाबले 15 और एससी के 4 स्वीकृत पदों के मुकाबले मात्र 2 लोग कार्यरत रहेंगे.

इंटरव्यू बोर्ड में ये थे शामिल

  1. अध्यक्ष अशोक प्रसाद (अधीक्षण अभियंता), सोनाराम मांझी (कार्यपालक अभियंता) एसटी मेंबर,
  2. तजेंद्र मलहोत्रा (उप-लेखा निदेशक), अरविंद कुमार ( कार्मिक पदाधिकारी), सतीश चंद्र मुर्मू (ईओटी क्रेन ऑपरेटर).

इसे भी पढ़ें – NEWS WING IMPACT: उत्पाद मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा- शराब बिक्री में अवैध वसूली की शिकायत तत्काल टोल फ्री नंबर पर करें, होगी कार्रवाई, भेजे जायेंगे जेल 

Related Articles

Back to top button