न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

फेक न्यूज पर लगाम लगाने की कोशिशः व्हाट्सऐप पर अब पांच बार ही फॉरवर्ड कर पायेंगे मैसेज

मॉब लिंचिंग रोकने के लिए व्हाट्सऐप का बड़ा बदलाव

322

New Delhi: सोशल मैसेजिंग साइट व्हाट्सऐप के जरिए भारत में फेक न्यूज फैलाने और इसके हिंसक परिणामों को देखते हुए कंपनी लगातार इस लगाम लगाने की कोशिश में है. रोजाना नये-नये कदम उठाये जा रहे हैं. हाल ही में कंपनी ने व्हाट्सऐप पर फॉरवर्डड मैसेज पर लेबल का फीचर शुरू किया था. अब कंपनी फेक न्यूज को फैलाने से रोकने के लिए एक और फीचर की टेस्टिंग कर रही है, जिसके आने के बाद यूजर मैसेज को ज्यादा ग्रुप में नहीं भेज पाएंगे. इसके बाद लिमिट क्रॉस होने पर वॉट्सऐप पर उस मेसेज को फॉरवर्ड करने का ऑप्शन डिसेबल हो जाएगा.

इसे भी पढ़ेंःराफेल डीलः भाजपा ने राहुल गांधी को दिया विशेषाधिकार हनन का नोटिस

व्हाट्सऐप भारत में मैसेज फॉरवर्ड करने की संख्या को सीमित करने के बारे में विचार कर रही है और अगर ऐसा होता है, तो इसके बाद व्हाट्सऐप यूजर्स केवल पांच ग्रुप में ही मैसेज भेज पाएंगे. यानी इस फीचर के आने के बाद आप एक मैसेज पांच से ज्यादा लोगों को फॉरवर्ड नहीं कर पायेंगे.

पांच बार फॉरवर्ड कर पायेंगे कोई मैसेज

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय में व्हाट्सऐप पर फेक न्यूज के चलन काफी बढ़ गया है. इसके चलते दो दर्जन लोग अपनी जान भी गंवा चुके हैं. इसलिए कंपनी व्हाट्सऐप के जरिए फैलने वाली अफवाह और फेक न्यूज से निपटने की हर संभव कोशिश कर रही है. एक ब्लॉग पोस्ट में, व्हाट्सएप ने नोट किया कि भारत में लोग किसी अन्य देश की तुलना में अधिक संदेश, फोटो और वीडियो फॉरवर्ड करते हैं. ऐसे में कंपनी मैसेज को फॉरवर्ड लेबल करने के बाद अब उन्हें सीमित करने पर भी विचार कर रही है. शुक्रवार से व्हाट्सऐप मैसेज फॉरवर्ड करने को सीमित करने की टेस्टिंग कर रही है जो सभी यूजर्स पर अप्लाई होगा.

इसे भी पढ़ेंःमैं खड़ा भी हूं और चार साल जो काम किये हैं, उस पर अड़ा भी हूं: मोदी

silk_park

इसके साथ ही, कंपनी भारत में मैसेज को केवल पांच ग्रुप तक सीमित कर सकती है. इसका मतलब ये होगा कि कोई भी मैसेज यूजर केवल पांच चैट में ही फॉरवर्ड कर पाएंगे. ये पांच चैट में निजी और ग्रुप दोनों में शामिल होंगे. इसके साथ ही कंपनी मीडिया मैसेज के बगल में क्विक फॉरवर्ड ऑप्शन को भी हटा सकती है. मैसेज को फॉरवर्ड करना सिर्फ भारत में ही सीमित नहीं किया जाएगा, बल्कि ये पूरे व्हाट्सऐप के लिए होगा. अमेरिका में मैसेज 20 ग्रुप तक फॉरवर्ड किए जा सकेंगे.

फेक न्यूज पर रोक लगाने की कोशिश

भारत व्हाट्सऐप का सबसे बड़ा मार्केट है और यहां करीब 20 करोड़ लोग रोजाना इस ऐप का इस्तेमाल करते हैं. हाल के दिनों में व्हाट्सऐप के जरिए फैले फेक न्यूज के कारण देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं बढ़ी है. जिसके बाद से सरकार लगातार व्हाट्सऐप को इस पर लगाम लगाने की हिदायत दे रही है. वही गुरुवार को व्हाट्सएप को दोबारा भेजे नोटिस में फर्जी खबरें रोकने के समुचित उपाय नहीं करने पर सख्त नाराजगी जताई थी. साथ ही उसके प्रबंधन को स्पष्ट चेतावनी देते हुए इस मामले में जिम्मेदारी तय करने को कहा था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: