न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ऑटो में दो युवतियों से गैंगरेप की कोशिश, चलती ऑटो से कूद बचाई जान और अस्मत

ऑटो चालक और उसके चार साथियों ने रेप की कोशिश की 

301

Dhanbad: कोयलांचल में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने में पुलिस नाकाम दिख रही है. वही शहर के ऑटो चालक बेलगाम. दो माह के अंदर दूसरी बार ऑटो सवार युवतियों के साथ रेप का प्रयास किया गया है. ताजा मामला लोदना ओपी क्षेत्र का है. जहां ऑटो सवार दो युवतियों किसी तरह चलती ऑटो से कूदकर अपनी जान और इज्जत दोनों बचाई.

इसे भी पढ़ेंःनगर निगम के ट्रैक्टर ड्राइवर की पिटाई, चार युवकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

चलती ऑटो से कूद बचाई जान और अस्मत

मिली जानकारी के अनुसार, शुक्रवार रात एक कॉस्मेटिक दुकान में काम खत्म करके दो युवतियां झरिया से पाथरडीह जा रही थी. इस दौरान ऑटो चालक और उसके चार साथियों ने सामूहिक दुष्कर्म की कोशिश की. चालक दोनों युवतियों को बनियाहीर हनुमानगढ़ी के पास से लोदना की ओर ले जाने लगे.

जब लड़कियों ने उनको रोका तो सभी धमकाने लगे और वाहन की गति तेज कर दी. तब अस्मत बचाने के लिए दोनों ने ऑटो से छलांग लगा दी. इस दौरान एक युवती गंभीर रूप से घायल हो गई, जिसे इलाज के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है.

इसे भी पढ़ेंः15 दिनों में 372 ताबड़तोड़ तबादलों पर जनता के खर्च हुए लगभग डेढ़ करोड़

काम खत्म कर लौट रही थी घर 

इधर, इस मामले में युवती के परिजनों ने बताया कि दोनों किशोरियां हड़ियापट्टी स्थित एक कॉस्मेटिक दुकान में काम करती थी. काम खत्म करके रात को वह अपने घर जा रही थी. ऑटो में बैठते ही अचानक पीछे से चार लड़के आकर ऑटो में बैठ गए. गलत रास्ते में ऑटो जाने लगे, जिससे उन्हें शक हुआ फिर युवकों ने अश्लील हरकत शुरू कर दी. जिसके बाद लड़कियों ने ऑटो से कूदना ही मुनासिब समझा. फिलहाल उनका इलाज पीएमसीएच में चल रहा है. वही परिजनों ने दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

इसे भी पढ़ेंःस्वांग कोलियरीः बिना राजनीतिक हस्तक्षेप के नहीं मिलता साफ पानी, पीओ ने कहा, जल्द सुधरेंगे हालात

पहले भी हो चुकी है ऐसी घटना 

उल्लेखनीय है कि झरिया इलाके में ही बीते सात जुलाई की रात जमुई की एक गर्भवती महिला से ऑटो चालक ने अपने साथियों के साथ जबरदस्ती का प्रयास किया था. उसने भी कूद कर अपनी जान बचाई थी. स्थानीय लोगों की मदद से उसकी इज्जत बच पाई थी. हालांकि महिला के गर्भ में पल रहे बच्चे को नहीं बचाया जा सका था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: