West Bengal

तृणमूल कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ीं, नारद कांड में ईडी ने बंगाल के मंत्री समेत पांच को भेजा नोटिस

विज्ञापन

Kolkata : विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस की मुश्किलें फिर बढ़ गयी हैं. नारद स्टिंग ऑपरेशन कांड में धन शोधन के पहलू की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मामले में आरोपित पांच लोगों को नोटिस भेजा है. साथ ही इनसे संपत्ति तथा बैंक खातों का ब्यौरा मांगा है. जिन पांच लोगों को नोटिस भेजा गया है उनमें पश्चिम बंगाल के मंत्री शुभेंदु अधिकारी, लोकसभा सदस्य सौगत रॉय, काकोली घोष दस्तीदार, अपरूपा पोद्दार तथा पूर्व  पुलिस अधिकारी एसएमएच मिर्जा शामिल हैं. जांच एजेंसी के अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले दो बार इन्हें नोटिस भेजा गया था, लेकिन उनसे मांगी गयी जानकारी अब तक प्राप्त नहीं हुई.

इसे भी पढ़ें – कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में नहीं हुआ नए अध्यक्ष का फैसला, सोनिया गांधी बनी रहेंगी अंतरिम अध्यक्ष

संपत्ति तथा बैंक का ब्योरा मांगा

ईडी सूत्रों ने बताया कि हमनें अब उन्हें नोटिस  भेजा है और उनमें से सभी ने आश्वासन दिया है कि वे जल्द ही जवाब देंगे. धन शोधन रोधी जांच एजेंसी ने आरोपितों को पिछले सात साल का संपत्ति तथा बैंक का ब्योरा देने को कहा है. बताते चलें कि कुछ दिन पहले ईडी ने इस कांड में आरोपित भाजपा के वरिष्ठ नेता तथा तत्कालीन तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ  नेता मुकुल राय को भी नोटिस भेजा था तथा उनसे भी बैंक के ब्योरे के साथ ईडी ऑफिस में हाजिर होने को कहा गया था.

advt

इसे भी पढ़ें – ई-कॉमर्स के फील्ड में अब टाटा ग्रुप की भी एंट्री, सुपर एप होगा लांच, ग्राहकों को मिलेंगी ये सुविधाएं

कोलकाता के पूर्व मेयर शोभन चटर्जी भी शामिल

गौरतलब है कि ईडी के अलावा सीबीआइ भी मामले की जांच कर रही है. पार्टी के पूर्व सांसद एवं मामले में आरोपित सुल्तान अहमद की सितंबर 2017 में मृत्यु हो गयी. नारद मामले में आरोपितों की सूची में कोलकाता के पूर्व मेयर व भाजपा नेता शोभन चटर्जी का नाम भी शामिल है. मुकुल रॉय तृणमूल कांग्रेस छोड़ कर नवंबर 2017 में भाजपा में शामिल हुए थे, जबकि शोभन चटर्जी पिछले साल भाजपा में शामिल हुए थे.

इसे भी पढ़ें – राज्य के 22 जिलों में बनेंगे ई-एफआइआर थाने, प्रस्ताव को सीएम की मंजूरी

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button