न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोयला लोडिंग बंद होने से परेशान हैं धनबाद के हार्ड कोक भट्ठा संचालक

धनबाद डीसी विधायकों के रंगदारी मामले को टालने के मूड में

2,187

Dhanbad: धनबाद के उपायुक्त ने हार्ड कोक भट्ठा मालिकों की समस्या को टाल दिया है. एक महीने से कोयला लोडिंग बंद होने से धनबाद के हार्ड कोक भट्ठा संचालक परेशान हैं. उनसे संबंधित खबरें लगातार मीडिया में आती रही हैं. हार्ड कोक भट्ठा मालिकों का संगठन इंडस्ट्रीज एंड कामर्स एसोसिएशन 650 रुपये प्रतिटन की जगह 1250 रुपये रंगदारी नहीं देने की बात पर अड़ा है. बाघमारा के भाजपा विधायक ढुल्लू महतो, धनबाद के भाजपा विधायक राज सिन्हा और निरसा के मासस विधायक पर लोडिंग के नाम पर रंगदारी वसूली और तरह-तरह के आरोप इस बीच लगाये गये. ढुल्लू ने रंगदार कहने पर इंडस्ट्रीज एंड कामर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष बीएन सिंह के खिलाफ मानहानि का मुकदमा भी दर्ज करवा दिया. इधर, हार्ड कोक भट्ठा मालिकों ने धनबाद प्रशासन से लेकर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री तक अपनी बात पहुंचाने के लिए ट्वीट किया. डीसी से मिलकर एसोसिएशन ने ज्ञापन दिया. मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील वर्णवाल से मुलाकात की. प्रतिपक्ष के नेता हेमंत सोरेन से मिले पर हासिल कुछ नहीं हुआ.

mi banner add

20 दिसंबर को हुई बैठक में नहीं निकला कोई समाधान

बीते सप्ताह इंडस्ट्रीज के प्रतिनिधिमंडल ने धनबाद डीसी को मामले से संबंधित एक पत्र सौंपा था. डीसी जवाब में कहा कि अब समस्या का समाधान हो जाएगा. इस सिलसिले में डीसी ने 20 दिसंबर को इंडस्ट्रीज एंड कामर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि एसके सिन्हा, धनबाद के एसएसपी किशोर कौशल, बीसीसीएल के महाप्रबंधकों, जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की. बीते एक महीने से लोडिंग के नाम पर वसूली को रंगदारी कहनेवाले इंडस्ट्रीज के प्रतिनिधि ने बैठक में रंगदारी का नाम नहीं लिया. यह बैठक की कार्यवाही के विवरण से प्रकट होता है. इंडस्ट्रीज के प्रतिनिधि ने जब कहा कि लोडिंग चार्ज डीओ के लिए ली जानेवाली राशि में शामिल रहता है तो इसका बीसीसीएल के प्रतिनिधि ने खंडन किया.

फैसला होने तक यथास्थिति कायम रहेगी

बैठक में बनायी गयी आठ सदस्यीय समिति को चार बिंदुओं पर विचार करना है. इसमें रंगदारी की बात नहीं है. लोडिंग और मजदूरी का उल्लेख है. कमेटी ने तत्काल कोई फैसला नहीं लिया. कार्यवाही विवरण में उल्लेखित है कि कोयला लदाई के मामले में फैसला होने तक यथास्थिति कायम रहेगी. स्पष्ट है कि मामले का समाधान नहीं निकला बल्कि इसे टाल दिया गया. रंगदारी वसूली की जब बात ही नहीं हुई तो इसपर कार्रवाई क्यों कर हो?  एसोसिएशन ने नया फैसला लिया है कि एक कमेटी एक जनवरी से हार्ड कोक भट्ठा की बंदी पर पुनर्विचार करेगी.

कड़े फैसले को टालने की कवायद

Related Posts

गिरिडीह  :  शिवम स्टील कंपनी समूह में आयकर विभाग की छापेमारी खत्म,  निदेशक भाईयों ने 150 करोड़ की  टैक्स चोरी को स्वीकारा!

डेढ़ करोड़ नकद के साथ एक करोड़ के जेवरात आयकर विभाग ने किये सील, दर्जन भर से अधिक बैंक पासबुक, आउटसेल बुक रजिस्टरों के साथ कई दस्तावेज जब्त

सभी पक्ष इस मामले में कड़े फैसले टालने में लगे हैं. कल तक नाउम्मीद एसोसिएशन को भरोसा है कि 20 दिनों की निर्धारित तिथि से पहले मामले में समुचित फैसला हो जायेगा. हालांकि, अभी तक जिला प्रशासन की गठित समिति की कोई बैठक नहीं हुई है.

भट्ठे से जुड़ा है कोयला चोरी का मामला

इधर, न्यूज विंग ने खबर दी थी कि पुलिस ने शुक्रवार को दलदली के पास साफ्ट कोक से लदा एक ट्रक पकड़ा है. ट्रक पर चोरी का कोयला होने की पुष्टि के बाद पुलिस ने टुंडी विधायक राजकिशोर महतो के विधायक प्रतिनिधि नरेश महतो,  चालक दिनेश सिंह, चालक डब्लू सिंह और मदन महतो के खिलाफ मामला दर्ज किया है. जय बजरंगबली नामक बिना धुआं उगलनेवाले भट्ठे की गहन छानबीन के बाद पुलिस ने यह कार्रवाई की. ऐसी कार्रवाइयां तेज हुई तो और भी भट्ठे लपेटे में आयेंगे.

इसे भी पढ़ेंः शीतकालीन सत्रः पहले दिन 1117.12 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: