न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हाईकोर्ट के निर्देश पर त्रिवेणी सैनिक के एजीएम, सुरक्षा एजेंट सहित अन्य पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज

एक साल से अधिक समय से एसडीजीएम हजारीबाग के आदेश पर नही हो रहा था अमल

941

Hazaribaug: हाईकोर्ट के निर्देश पर बड़कागांव थाना में एनटीपीसी के अधीन कार्य कर रही त्रिवेणी सैनिक के एजीएम गोपाल सिंह, पूर्व डीएसपी व वर्तमान सुरक्षा एजेंट एसडी सिंह उर्फ सत्येंद्र सिंह सहित अन्य पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया गया है. इस बात की जानकारी मंगलवार को हाईकोर्ट में रंगून मुखोपध्याय की अदालत में सरकार की तरफ से नियुक्त अधिवक्ता ने दी.

एक साल से अधिक समय से थाने में पड़ा रहा एडीजीएम का आदेश
बड़कागांव थाना के देवरिया निवासी मुमताज ने अप्रैल 2017 में हजारीबाग एसडीजीएम की अदालत में परिवारवाद 551/ 2017 दायर किया था. जिसमें उसने त्रिवेणी सैनिक के एजीएम गोपाल सिंह, सुरक्षा एजेंट एसडी सिंह सहित उनके लठैतों पर जमीन नही देने और कंपनी का विरोध करने का आरोप लगाते हुए मारपीट,हत्या का प्रयास करने का आरोप लगाया था. कोर्ट ने 156(3) के तहत आगे की कार्रवाई के लिए बड़कागांव थाना को मामला दर्ज कर कोर्ट में सूचित करने का आदेश दिया था. एसडीजीएम कोर्ट के आदेश के बाद भी बड़कागांव थाना में मामला दर्ज नही किया गया था. पीड़ित की तरफ से अधिवक्ता संजीव कुमार,अनिरुद्ध कुमार ने कोर्ट में पैरवी की थी.

hazaribagh-police-firing
हाईकोर्ट के निर्देश पर मामला दर्ज करने को विवश हुई पुलिस

हाईकोर्ट के निर्देश पर मामला दर्ज करने को विवश हुई पुलिस
एडीजीएम हजारीबाग के आदेश पर बड़कागांव पुलिस की तरफ से कोई कार्रवाई नही होने के बाद पीड़ित के द्वारा उच्च न्यायालय में क्रिमनल रिट डब्लू पी (cr)162/2018 दायर किया गया. चार नंबर बेंच में रंगून मुखोपध्याय की अदालत में पहली सुनवाई के बाद सरकार से जवाब तलब किया गया था. सरकार की तरफ से सरकारी अधिवक्ता ने मंगलवार को कोर्ट में बताया कि बड़कागांव थाना में मामला दर्ज कर लिया गया है. हाईकोर्ट में पीड़ित की तरफ से वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक गुप्ता ने पक्ष रखा.

इसे भी पढ़ें- अलग देश और अलग मुद्रा चलाने की बात है फिजूल, मीडिया वाले इसको मसाला के रूप में छाप रहे हैं : यूसुफ…

जिसपर जिन धाराओं में दर्ज हुआ केस
हाईकोर्ट के निर्देश पर बड़कागांव थाना में त्रिवेणी सैनिक के एजीएम गोपाल सिंह,सुरक्षा एजेंट व पूर्व डीएसपी एसडी सिंह,अमित यादव,भीम प्रजापति,धनेश्वर साव,खलील अंसारी पर धारा 147,148,323,324,325,307, भादवी 34 लगाते हुए कांड संख्या 99/18 दर्ज कर लिया गया है.

…और भी दर्ज हैं मामले तथा दायर परिवाद पर नही हो रही कार्रवाई
एनटीपीसी के खिलाफ आंदोलन में अब तक जितने भी कंपनी और पुलिस द्वारा आम लोगों पर केस किया गया और तत्परता दिखाते हुए कोर्ट में चार्जशीट दायर कर दी गई. वहीं उन्हीं घटनाओं में कंपनी और पुलिस से पीड़ित लोगों द्वारा भी कंपनी और पुलिस अधिकारियों पर कई परिवारवाद दायर किया गया. उसमें से कुछ पर मामला दर्ज हुआ है तो कार्रवाई नही हुई और कुछ परिवार वाद थानों में लंबित पड़े हुए हैं.

triveni sainik firing
पुलिस की कार्रवाई बनी उसी के गले की फांस

पुलिस की कार्रवाई बनी उसी के गले की फांस
एनटीपीसी के खिलाफ धरना,प्रदर्शन,आंदोलनों के दौरान कंपनी और पुलिस द्वार पार्टी बनकर अब तक सैकड़ो लोगों पर मुकदमा दायर किया गया. इस दौरान कई झड़पें भी हुई,गोलीबारी हुई,जान भी गई.
इसी क्रम में दोनों पक्षों की ओर से केस किया गया. एक तरफ कंपनी और पुलिस केस को चार्जशीट भी दायर कर दिया गया लेकिन आमलोगों द्वारा दर्ज मुकदमें और दायर परिवारवाद पर कोई कार्रवाई हुई और न चार्जशीट कोर्ट में दायर की गई.
इसी एकतरफा कार्रवाई को सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का सहारा लेकर सभी पीड़ित हाईकोर्ट में अपील दायर कर दिए हैं. जिसमें पहली कार्रवाई की जानकारी मंगलवार को दी गई. अगर सभी मामलों में कार्रवाई हुई तो कई बड़े सरकारी और कंपनियों के अधिकारियों पर गंभीर मुकदमों का सामना करना पड़ेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: