Bihar

किशनगंज के सरकारी स्कूल में गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज जलाने की कोशिश की, प्रिंसिपल ने की शिकायत

Kishangunj: जिले के सरकारी स्कूल में गणतंत्र दिवस के अवसर पर अराजक तत्वों ने राष्ट्रीय ध्वज को जलाने की कोशिश की है. जब स्कूल के प्रिंसिपल ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उनके साथ भी बदसलूकी की. राष्ट्रीय ध्वज को जलाने की कोशिश करने वाले आरोपी खुद को एआईएमआईएम के विधायक का करीबी बता रहे थे. यह घटना किशनगंज के कोचाधामन प्रखंड के धनपूरा सरकारी स्कूल का है. स्कूल की प्रिंसिपल मंजू कुमारी ने जिला शिक्षा पदाधिकारी समेत दूसरे अधिकारियों को पत्र लिख कर मामले की जानकारी दी है.

प्रिंसिपल ने अपने पत्र में कहा है कि सरकार द्वारा तय कोविड गाइडलाइंस के मुताबिक स्कूल के कुछ बच्चों, अभिभावकों औऱ शिक्षकों की मौजूदगी में गणतंत्र दिवस के मौके पर झंडोत्तोलन किया जा रहा था. इसी बीच धनपूरा गांव के ही आबिद हुसैन नामक व्यक्ति ने उत्पात मचा दिया.प्रिंसिपल के पत्र के मुताबिक आबिद हुसैन झंडोत्तोलन के वक्त स्कूल में पहुंच गया औऱ भद्दी भद्दी गालियां देने लगा. उसने प्रिंसिपल को कहा कि तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई झंडा फहराने की. प्रिंसिपल के पत्र के मुताबिक आबिद हुसैन ने कहा कि वह झंडा उतार कर जला देगा. वह राष्ट्रीय ध्वज को उतार कर फेंकने की कोशिश करने लगा. आबिद हुसैन ने स्कूल की प्रिंसिपल को भद्दी भद्दी गालियां दीं. वह लगातार झंडे तो उतार कर जलाने की कोशिश कर रहा था.

प्रिंसिपल मंजू कुमारी ने अपने पत्र में लिखा है कि स्कूल में मौजूद कुछ स्थानीय लोगों ने बीचबचाव नहीं किया होता तो अनर्थ हो जाता. स्थानीय लोगों ने किसी तरह से उसे रोका. धनपूरा सरकारी स्कूल की प्रिंसिपल मंजू कुमारी आदिवासी तबके से आती हैं. उन्होंने शिक्षा विभाग के आलाधिकारियों से आरोपी आबिद हुसैन के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की अनुमति मांगी है. वैसे, मामले की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गयी है लेकिन पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है.

Advt

Related Articles

Back to top button