न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

याद किये गये संविधान निर्माता बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर, 63वीं पुण्यतिथि पर दी गयी श्रद्धांजलि

628

New Delhi: भारतीय संविधान के निर्माण बीआर अंबेडकर की शुक्रवार को 63वीं पुण्यतिथि पर पूरा देश उन्हें नमन कर रहा है. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अंबेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित की.

भारतीय संविधान के प्रमुख निर्माताओं में से एक बाबा साहेब अंबेडकर का जन्म दिल्ली में 1956 में हुआ था.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ेंः#DishaCase: पुलिस #Encounter में मारे गये हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपी

पीएम मोदी ने साझा किया वीडियो

मोदी ने अंबेडकर की याद में एक वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘ सामाजिक न्याय के लिए अपना जीवन समर्पित कर देने वाले पूज्य बाबासाहेब को उनके महापरिनिर्वाण दिवस पर कोटि-कोटि नमन.’

उन्होंने लिखा, ‘‘ उन्होंने संविधान के रूप में देश को अद्वितीय सौगात दी, जो हमारे लोकतंत्र का आधारस्तंभ है. कृतज्ञ राष्ट्र सदैव उनका ऋणी रहेगा.’’

मोदी ने वीडियो में कहा, ‘ पूजनीय बाबा साहेब अंबेडकर ने हमें इतना व्यापक और विस्तृत संविधान दिया, वह आज भी ‘टाइम मैंनेजमेंट’ और ‘प्रोडेक्टिवटी’ का एक उदाहरण है. वह हमें भी अपने दायित्तवों को रिकॉर्ड समय में पूरा करने के लिए प्रेरित करता है.’

उन्होंने कहा, ‘ लोकतंत्र बाबा साहेब के स्वभाव में रचा-बसा था और वह कहते थे कि भारत के लोकतांत्रिक मूल्य कहीं बाहर से नहीं आए, गणतंत्र क्या होता है और संसदीय व्यवस्था क्या होती है, यह भारत के लिए कोई नई बात नहीं है. संविधान सभा में उन्होंने एक भावुक अपील की थी कि इतने संघर्ष के बाद मिली स्वतंत्रता की रक्षा हमें अपने खून की आखिरी बूंद तक करनी है. वह यह भी कहते थे कि हम भारतीय भले ही अलग-अलग पृष्ठभूमि से हो लेकिन हमें सभी चीजों से ऊपर देशहित को रखना होगा.’

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: वोट मांगने गये मंत्री बाउरी और सीटिंग MLA बाटुल का लोग खुलकर कर रहे विरोध, वीडियो वायरल

प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘इंडिया फर्स्ट’ अंबेडकर का मूल मंत्र था. मैं सभी देशवासियों की ओर से बाबा साहेब को नमन करता हूं जिन्होंने करोड़ों भारतीयों को सम्मान से जीने का अधिकार दिया.
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने भी बीआर अंबेडकर को उनकी पुण्यतिथि पर उन्हें याद करते हुए श्रद्धा-सुमन अर्पित किये. इस दौरान पीएम मोदी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की आपस में मुलाकात भी हुई.

 

संविधान के आदर्शों के प्रति निष्ठा रखना अंबेडकर को सच्ची श्रद्धांजलि: नायडू

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने संविधान निर्माता भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि पर शुक्रवार को उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि संविधान के आदर्शों के प्रति निष्ठा रखना ही बाबासाहेब को सच्ची श्रद्धांजलि होगी.

नायडू ने ट्वीट किया, ‘‘हमारे संविधान निर्माता डॉ. बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर उन्हें सादर नमन करता हूं. हमारा संविधान डॉ अंबेडकर की बौद्धिक और दार्शनिक विरासत है. हमारा कर्तव्य है कि हम संवैधानिक आदर्शों के प्रति निष्ठावान रहें.’’

नायडू ने कहा, ‘‘उनका विश्वास था कि लोकतांत्रिक प्रशासन एक ऐसी व्यवस्था प्रदान करता है जिससे बिना किसी हिंसा और रक्तपात के सामाजिक जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन लाए जा सकते हैं. लोकतांत्रिक व्यवस्था के आदर्शों एवं उद्देश्यों को पूरा करना वर्तमान और भावी पीढ़ी का कर्तव्य है.’’

उल्लेखनीय है की बाबासाहेब अंबेडकर का निधन छह दिसंबर 1956 को हुआ था. उनकी पुण्यतिथि महापरिनिर्वाण दिवस के रूप मे मनायी जाती है.

इसे भी पढ़ेंःजेवर व्यवसायी की इलाज के दौरान मौत, लूट की नीयत से अपराधियों ने मारा था चाकू

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like