JharkhandLead NewsRanchi

आदिवासी, मूलवासी जस के तस, फला-फूला CM का परिवार और उनका कुनबा: प्रतुल शाहदेव

मंत्री मिथिलेश ठाकुर बतायें कि उनकी पत्नी के फर्म को किस आधार पर ₹8.75 करोड़ का ठेका मिला

Ranchi : भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि हेमंत सोरेन सरकार अपने कार्यकाल के पहले 2 वर्ष तक सिर्फ कोरोना का बहाना करके रोजगार न देने और जनहित के काम नहीं करने का बहाना बनाती रही. जबकि वास्तव में इसी दौरान मुख्यमंत्री, उनके सगे संबंधी और मंत्रियों के रिश्तेदारों को जम कर सरकार ने उपकृत किया. मुख्यमंत्री का माइनिंग लीज तो जगजाहिर है लेकिन ताजा उदाहरण में पेयजल और स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर की पत्नी की फर्म सत्यम बिल्डर्स को झारखंड भवन निर्माण निर्माण निगम ने जून 2021 में 8.75 करोड़ रुपये का काम आवंटित किया. यह सीधा-सीधा भ्रष्टाचार का मामला है. मंत्री को स्पष्ट करना चाहिए कि उनकी पत्नी के फर्म को ही मलाईदार टेंडर कैसे मिला ? ऐसा लगता है कि स्थानीय लोगों को टेंडर देने की मुख्यमंत्री की घोषणा का अर्थ सिर्फ उनके अपने कैबिनेट मंत्री और उनके सगे संबंधी के लिए था.

इसे भी पढ़ें – माइंस आवंटन गड़बड़ीः सरकार ने पलामू डीसी से मांगा जवाब

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि मिथिलेश ठाकुर बार-बार कहते हैं कि उन्होंने फर्म से इस्तीफा दे दिया था. अब तक उन्होंने यह नहीं बताया कि यह इस्तीफा उन्होंने निबंधन कार्यालय और जो जिन विभागों में उनका फर्म काम करता था उसमें कब भेजा.

Chanakya IAS
SIP abacus
Catalyst IAS

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि आदिवासी मूल वासियों को हक दिलाने के नाम पर झारखंड में बनी इस सरकार ने इन्हीं वर्गों के हितों की पूरी अनदेखी की. आदिवासी को दिये जाने वाले उद्योग के लिए जमीन और खनन पट्टों पर भी सिर्फ सोरेन परिवार का एकाधिकार रहा. स्थानीय लोगों को ₹25 करोड़ तक के टेंडर देने का आदेश पारित हुआ. पर ऐसे टेंडर मंत्री के रिश्तेदारों को मिलता रहा. उन्होंने ने कहा कि यह सरकार आकंठ भ्रष्टाचार में डूबी है और भ्रष्टाचार के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिये. भ्रष्टाचार पर रोकथाम और पारदर्शी शासन के लिए लोकायुक्त और सूचना आयोग जैसी संस्थाएं हैं जिन्हें सरकार ने पंगु बना दिया.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani

प्रतुल शाहदेव ने कहा मिथिलेश ठाकुर की पत्नी को मिले मलाईदार टेंडर प्रकरण के पूरे मामले की जांच उच्च न्यायालय के सिटिंग जज से करानी चाहिए.

इसे भी पढ़ें – पलामू में सीआरपीएफ ने नक्सलियों के आइईडी को बरामद कर किया डिफ्यूज

Related Articles

Back to top button