न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नवविवाहिता से गैंगरेप, हत्या की नीयत से पिटाई कर कुएं में धकेला

मुख्य आरोपी हीरवा टुडू है पीड़िता के पिता की हत्या का भी आरोपी, सहेली के धोखे का शिकार हुई युवती

1,352

Giridih : गिरिडीह के बिरनी प्रखंड की एक आदिवासी युवती के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है. आरोप है कि गैंगरेप के बाद हत्या की नीयत से पीड़िता की पिटाई की गयी और उसके बाद कुएं में धकेल दिया गया.

mi banner add

घटना मंगलवार रात की बतायी जा रही है. युवती बुरी तरह घायल है. उसके सिर में गंभीर चोट है. सदर अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है. ज्ञात हो कि युवती की 20 दिन पूर्व ही शादी हुई है.

अस्पताल में युवती ने बताया कि पड़ोस के गांव टोटो के रहनेवाले हीरवा टुडू और उसके तीन साथियों ने उसके साथ दुष्कर्म किया है. कुएं में फेंके जाने के बाद उसे किसने वहां से निकाला और अस्पताल में भर्ती कराया, उसे पता नहीं है.

इसे भी पढ़ें : लातेहारः 70 वर्षीया वृद्धा के साथ गैंगरेप के आरोपी को सश्रम 21 वर्षो की सजा और 10 हजार जुर्माना

सहेली ने की दगाबाजी

उसने बताया कि वह अपनी मौसी के घर रहती है. उसने कहा, ‘गांव की ही इखूनी टुडू शाम को घर आयी और एक किलोमीटर दूर टोटो चलने को कहा. मैं उसके साथ टोटो पहुंची.’

पीड़िता ने आगे बताया, ‘अंधेरे में खड़े हीरवा के पास पहुंच इखूनी वहां से खिसक गयी. जब तक मैं कुछ समझ पाती, चार अन्य युवक आ धमके. उन्होंने मेरी अस्मत को तार-तार करने के बाद पीटा और कुएं में धकेल दिया. इसके बाद क्या हुआ कुछ याद नहीं.’

इसे भी पढ़ें : दुमकाः आदिवासी युवती से गैंगरेप केस में 11 दोषियों को आजीवन कारावास

आरोपी पर पीड़िता के पिता की हत्या का भी आरोप

Related Posts

पलामू : डायरिया से बच्चे की मौत, माता-पिता व भाई गंभीर, गांव में दर्जन भर लोग पीड़ित

स्वास्थ्य विभाग के डायरिया नियंत्रण की खुली पोल, आनन-फानन में कुछ लोगों को एंबुलेंस से भेजा अस्पताल

पीड़ित युवती ने बताया कि सात साल पूर्व उसके पिता की हत्या कर दी गयी थी जिसके आरोपियों में हीरवा का नाम भी शामिल था.  युवती का कहना है कि गैंगरेप के पीछे हीरवा की मंशा बदले की भी हो सकती है.

मिली जानकारी के अनुसार नगर पुलिस पीड़ित युवती से बयान लेकर गयी है.

इसे भी पढ़ें : पाकुड़ः गैंगरेप के चार आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जेल भेजे गये

आदिवासी छात्रसंघ ने की कठोर कार्रवाई की मांग

घटना की जानकारी मिलने के बाद सदर अस्पताल पहुंचे आदिवासी छात्रसंघ के जिलाध्यक्ष साहिल जोन मुर्मू ने जिला प्रशासन से हीरवा टुडू सहित अन्य आरोपियों पर कठोर कार्रवाई की मांग की.

उन्होंने कहा कि पूर्व में भी आदिवासी युवतियों के साथ इस प्रकार की घटनाएं हो चुकी हैं, पर सभी मामले पुलिस की फाइलों में गुम हैं.

इसे भी पढ़ें : कोचांग गैंगरेप : फादर अल्फांसो समेत सभी छह दोषियों को आजीवन कारावास

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: