न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राजमहल में त्रिकोणीय मुकाबला, परिणाम चौंकानेवाले होंगे, अब भी देश के पिछड़े इलाकों में शामिल है क्षेत्र: वृंदा करात

250

Ranchi: इस बार राजमहल लोकसभा क्षेत्र के चुनाव परिणाम काफी चौंकानेवाले होंगे. क्योंकि यहां त्रिकोणीय मुकाबला है. कांग्रेस, बीजेपी और झामुमो तीनों पार्टियों के सासंद इस सीट से जीत चुके हैं. लेकिन इस बार के परिणाम अन्य राजनीतिक पार्टियों को आश्चर्य में डाल सकते हैं. उक्त बातें मार्क्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की पोलित ब्यूरो सदस्य वृंदा करात ने कहीं. वह राजमहल में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रही थीं. इस दौरान उन्हेांने कहा कि राजमहल सीट से सात बार कांग्रेस, चार बार झामुमो और दो बार बीजेपी के उम्मीदवार सांसद हुए हैं. जनता भी अब इन पार्टियों के प्रतिनिधियों की कार्यशैली को समझ गयी है. और पहले से अब अधिक जागरुकता ग्रामीणों में वोट देने के मामले में आयी है. ऐसे में जरूरी है कि जनता सही और स्वच्छ नीति की सरकार को चुने. उन्होंने कहा कि अंतिम चरण को कुछ दिन रह गये हैं, ऐसे में जनता बीजेपी को करारा जवाब दे सकती है.

इसे भी पढ़ें – सीएम रघुवर दास के 16 विभागों का लगातार बढ़ रहा है बजट

विकास की गति धीमी, पिछड़ा है राजमहल

उन्होंने कहा कि राजमहल सीट पर हमेशा कांग्रेस, बीजेपी और झामुमो ने जीत हासिल की. इसके बावजूद देश के सबसे पिछड़े इलाकों में राजमहल शामिल है. क्षेत्र के गांवों की क्या स्थिति है इस पर कभी भी सत्ताधारियों ने काम नहीं किया. जबकि क्षेत्र के लोग बेरोजगारी, गरीबी और नागरिक सुविधाओं के घोर अभाव से ग्रस्त हैं. किसानों की स्थिति तो और भी बदतर है. कथित विकास के नाम पर इन्हें सिर्फ छला गया है. जबकि विकास की किरण इन क्षेत्रों से काफी दूर है. सुदूर गांवों में आज भी लोगों को रोजी रोटी की समस्या झेलते देखा जा रहा है. इस दौरान उन्होंने बरहेट महेशपुर समेत अन्य विधानसभा क्षेत्रों में जनसभा की. मौके पर राज्य सचिव मंडल सदस्य प्रकाश विप्लव समेत अन्य पार्टी कार्यकर्ता उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – अब तक झारखंड में नहीं लागू हो सका सवर्ण आरक्षण, सीएम रघुवर दास की घोषणा के बीते 120 दिन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: