National

#Treason_Case :  कन्हैया कुमार, उमर खालिद पर राजद्रोह का केस चलाने का रास्ता साफ, केजरीवाल सरकार ने दी मंजूरी

NewDelhi : कन्हैया कुमार पर राजद्रोह का केस चलने का रास्ता साफ हो गया है. केजरीवाल सरकार द्वारा मंजूरी दिये जाने की खबर है. दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में लगे कथित देश विरोधी नारों के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को मंजूरी दे दी है. इसके बाद अब JNU छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर राजद्रोह का केस चलाया जायेगा. जान लें कि स्पेशल सेल को इस मामले में मंजूरी देने की फाइल काफी समय से लटकी हुई थी.

दिल्ली सरकार की मंजूरी के बाद अब कन्हैया कुमार पर राजद्रोह की धाराओं में मुकदमा चलाया जायेगा. इस मामले में दिल्ली सरकार ने उमर खालिद, अनिर्बान, आकिब हुसैन, मुजीब, उमर गुल, बशरत अली और खालिद बसीर पर भी राजद्रोह का मुकदमा चलाये जाने की मंजूरी दी है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें :  #CAA_Violence  : अमित शाह ने कहा, CAA पर विपक्षी दल झूठ फैला रहे हैं, एक भी मुस्लिम की नागरिकता नहीं जायेगी

The Royal’s
Sanjeevani

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने केजरीवाल सरकार को पत्र लिखा.

हाल ही में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में मामले की सुनवाई हुई तो दिल्ली पुलिस द्वारा कहा गया कि अभी तक दिल्ली सरकार ने राजद्रोह का मुकदमा चलाने की अनुमति नहीं दी है. इसके बाद कोर्ट ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को निर्देश दिया कि वह दिल्ली सरकार को पत्र लिखकर इस पर रुख साफ करने को कहें. इस क्रम में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने केजरीवाल सरकार को पत्र लिखा. पत्र में कन्हैया कुमार समेत अन्य के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा चलाने की फिर से अनुमति मांगी गयी. जिसके बाद अब केजरीवाल सरकार ने स्पेशल सेल को मुकदमा चलाये जाने की अनुमति दे दी है.

इसे भी पढ़ें : #Delhi_Violence : शिवसेना के मुखपत्र सामना का मोदी सरकार से सवाल, जब दिल्ली जल रही थी गृहमंत्री कहां थे?  

क्या है मामला?

9 फरवरी 2016 को जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी परिसर में नारेबाजी के वीडियो सामने आये थे. इसके बाद मामले की जांच की गयी थी और तत्कालीन जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार समेत अन्य के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया था. कन्हैया कुमार सीपीआई के नेता हैं. हाल ही में कन्हैया कुमार ने बेगूसराय से सीपीआई के टिकट से लोकसभा चुनाव भी लड़ा था, लेकिन उनको हार का मुंह देखना पड़ा था.

इसे भी पढ़ें : #Delhi_Violence : कपिल सिब्बल अमित शाह पर बरसे,  कहा, कोई बयान नहीं दिया, हिंसा प्रभावित इलाकों में नहीं गये…

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button