JharkhandRanchi

#Jharkhand में 10 हजार आदिवासियों पर लगा राजद्रोह कानून, लेकिन देश की अंतरात्मा नहीं हिली: राहुल

New Delhi: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने झारखंड में 10 हजार आदवासियों के खिलाफ ‘राजद्रोह’ के कानून के तहत मामला दर्ज किये जाने से जुड़ी खबर का हवाला देते हुए बुधवार को कहा कि इसे लेकर देश की अंतरात्मा हिल जानी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

Jharkhand Rai

उन्होंने एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ‘‘अगर किसी सरकार ने 10 हजार आदिवासियों पर राजद्रोह कानून लगाया है तो हमारे देश की अंतरात्मा हिल जानी चाहिए थी और मीडिया में तूफान खड़ा हो जाना चाहिए था. परंतु ऐसा नहीं हुआ.’’

इसे भी पढ़ें – पत्थलगड़ी की आग में जल रहा है मुंडा अंचल, 29 प्रथामिकी में 15000 से अधिक मुंडाओं पर देशद्रोह का आरोप

मीडिया को भी लिया निशाने पर

राहुल गांधी ने मीडिया के एक हिस्से को भी निशाने पर लिया और सवाल किया कि क्या हमारे नागरिक इस स्थिति का जोखिम मोल ले सकते हैं? उन्होंने जिस मीडिया रिपोर्ट का हवाला दिया उसमें कहा गया है कि झारखंड की सरकार ने पत्थलगड़ी आंदोलन में हिस्सा लेने को लेकर खूंटी जिले में 10 हजार से अधिक आदिवासियों के खिलाफ राजद्रोह कानून के तहत मामला दर्ज कराया है.

Samford

गौरतलब है कि 2017-18 में पत्थलगड़ी आंदोलन के तहत झारखंड के कई गांवों के बाहर ऐसे पत्थर लगाये गये जिन पर लिखा था कि ग्राम सभा स्वायत्त है.

इसे भी पढ़ें- ‘झारखंड के पत्थलगड़ी क्षेत्र के हर 10वें आदिवासी को सरकार मानती है देशद्रोही’

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: