HazaribaghJharkhandLead News

दर्दनाक: हजारीबाग में करंट लगने से पति-पत्नी और बच्चे की मौत, हत्या की आशंका

HAZARIBAGH: जिले के लोहसिघना थाना क्षेत्र के ओकनी मुहल्ला में दिल दहला देने वाली घटना घटी है. जिसमें पति-पत्नी और उनके छह साल के बच्चे की मौत करंट लगने हो गई. वहीं परिजन हत्या की आशंका जता रहे हैं.

 

इसे भी पढ़े : गुमला में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, कई के घायल होने की सूचना

शहर के बीचोबीच स्थित ओकनी मुहल्ला में बुधवार की देर रात घर में एक ही परिवार के तीन सदस्य करंट लगने झुलस गए और उनकी मौत हो गई. मृतकों में पति मुन्ना विश्वकर्मा (45), पत्नी सोनम विश्वकर्मा (40) और उनके छह वर्षीय पुत्र आयुष विश्वकर्मा शामिल है. वहीं दूसरे कमरे में सो रही मृतक की दो पुत्रियां भूमि 12 वर्ष और कनक 10 वर्ष बाल बाल बच गयीं. मामले की जानकारी मिलते ही लोहसिघना थाना प्रभारी निशी पांडेय दल बल के मौके पर पहुँची. पुलिस ने डेड बॉडी को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. मृतक दंपती के तीन बच्चों में से सबसे छोटे बेटे की इस घटना मौत हो गई, अब दो बेटियां अकेले रह गई हैं. ऐसे में पूरा परिवार बिखर गया है.

 

इस भी पढ़ें : गद्दार धरायाः सेना को सब्जी की आपूर्ति करने वाला पाकिस्तान के लिये करता था जासूसी, सैन्य कर्मियों की संलिप्तता से इन्कार नहीं

बताया जा रहा है कि बुधवार की रात्रि मुन्ना विश्वकर्मा अपने परिवार व बच्चों के साथ शादी समारोह में भाग लेकर देर रात लौटा था. इसके बाद मुन्ना विश्वकर्मा अपनी पत्नी व बच्चों के साथ अपने कमरे में सोने चला गया,जबकि उसकी दो बेटियां भूमि और कनक बगल के रूम में सोने चली गयी. बताया जा रहा है कि रात्रि ढाई बजे के करीब मुन्ना विश्वकर्मा की बेटी को पिता के कमरे से जलने की बदबू व कमरे से धुआं निकलता दिखाई दिया. बच्चियों ने चिल्लाने पर जब घर के लोग मौके पर पहुंचे तो बाहर दरवाजे पर एक तार बंधा देखा. किसी तरह परिवार के लोग दरवाजा को खोला और अंदर का नजारा देखा तो सब के होश उड़ गए. पति पत्नी व उनका छह वर्षीय पुत्र की करंट से लगी आग से जलकर मौत हो गयी है. घटना के बाद परिवार में मातम का माहौल है, परिवार के सदस्य ये सवाल उठा रहे है कि रात तक सब कुछ ठीक था तो फिर कमरे के अंदर बिजली करंट कैसे प्रवाहित हुई.

थाना प्रभारी निशा पांडेय ने कहा कि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा.

Related Articles

Back to top button